बिहार: कोविन पोर्टल पर 4.62 लाख हेल्थकेयर पेशेवरों ने कराया रेजिस्ट्रेशन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राज्य सरकार और बिहार स्वास्थ्य विभाग कोविड -19 के टीकाकरण अभियान को लेकर पूरी तरह से तैयार है. यह बात शनिवार को विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताई. उन्होंने बताया कि टीकाकरण के पहले चरण के लिए सरकारी और गैर-सरकारी संस्थानों के स्वास्थ्यकर्मियों का कोविन पोर्टल पर तेजी से रेजिस्ट्रेशन हो रहा है. बिहार स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार अभी तक 4.62 लाख हेल्थकेयर पेशेवरों ने कोविन (CoWIN) पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराया है. बता दें कि कोविन पोर्टल, कोविड -19 वैक्सीन के वितरण की निगरानी के लिए एक ऑनलाइन मंच है.

बता दें कि देश में 16 जनवरी को कोरोनावायरस इनोक्यूलेशन ड्राइव (coronavirus inoculation drive) यानि टीकाकरण लॉन्च किया जाएगा और लगभग तीन करोड़ हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्राथमिकता दी जाएगी. इसकी जानकारी केंद्र ने गुरुवार सुबह दी.

राज्य स्वास्थ्य सोसायटी (SHS) के सहायक निदेशक पीयूष चंदन ने बताया कि टीकाकरण के प्रथम चरण के लिए सरकारी और निजी अस्पतालों से जुड़े कुल 4,62,026 स्वास्थ्य पेशेवरों ने अब तक CoWIN पोर्टल पर खुद को पंजीकृत किया है.

चंदन ने कहा कि हरेक टीकाकरण केंद्र पर रंगीन कोड से युक्त बैगों को रखा जाएगा ताकि टीकाकरण के बाद इनमें जैव-अपशिष्ट पदार्थों (biowaste materials) को रखा जा सके.

आपने यह खबर पढ़ी क्यापटना चिड़ियाघर में कार्डियक अरेस्ट से सबसे बुजुर्ग शेरनी की मौत

उन्होंने कहा कि इन बैगों को टीकाकरण केंद्रों से कोल्ड चेन प्वाइंट्स (cold chain points) पर लाया जाएगा और फिर उनके निष्पादन के लिए उन्हें वहां से वायोवेस्ट मैनेजमेंट ट्रीटमेंट सेंटर ले जाया जाएगा.

अधिकारी ने एक बयान में कहा कि टीकाकरण के अभ्यास के दौरान टीके के रखरखाव और प्रबंधन में समस्याओं से बचने के लिए राज्य के सभी जिलों में कोल्ड चेन पॉइंट्स को मजबूत किया जा रहा है.

पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (NMCH) में स्थित राज्य स्तरीय वैक्सीन स्टोर से टीकों को राज्य के क्षेत्रीय स्टोरों में भेजा जाएगा. नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (NMCH) में स्थित वैक्सीन स्टोर में टीके के भंडारण के लिए एक वाक इन कूलर को चिन्हित किया गया है, जिसकी क्षमता लगभग 3 लाख वायल है. विभाग के अनुसार अब तक राज्य के 21 जिलों को कोविड-19 के टीका कार्य के लिए सिरिंज भी उपलब्ध कराई जा चुकी है.

कोविड-19 वैक्सीन सभी के लिए सुरक्षित

बताते चलें कि सरकार ने कहा है कि कोरोना वायरस से बचने के लिए पूरे देश में जल्द ही कोविड का टीकाकरण शुरू किया जाएगा. सरकार के अनुसार सभी प्रमाणित वैक्सीन पूरी प्रक्रिया से गुजरने के बाद ही स्वीकृत की गई है. सरकार ने इसे चरणबद्ध तरीकों से सभी नागरिकों के लिए टीका उपलब्ध कराने की योजना बनाई है और बहुत जल्द सबों के लिए कोविड वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी.