खुशखबरी: भारत पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | पूरी दुनिय में कोरोना के लिए वैक्सीन बनने का कम उच्च स्तर पर चल रहा है. दुनिया भर के डॉक्टर्स और साइंटिस्ट साथ मिल कर इस बीमारी की दवा बनाने में जुटे हैं. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच दुनियाभर के लोगों को कोरोना की वैक्सीन का इंतजार है.

आपको बता दें कि रूस ने अगस्त में दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक-वी (Sputnik-V) को मंजूरी देकर दुनिया को चौंका दिया था. हालांकि इस वैक्सीन के अंतिम चरण का ट्रायल अब तक पूरा नहीं हुआ है और रूस में आपातकालीन अप्रूवल के तहत उच्च जोखिम वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगाई जाने लगी है. जिसके बाद अब इस वैक्सीन का ट्राइयल भारत में भी होने जा रहा है. 

भारत की फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी लैबोरेटरीज इस वैक्सीन का ट्रायल करने जा रही है. देश में इस वैक्सीन का दूसरे और तीसरे चरण का ट्रायल किया जाना है. खबर है कि इसके लिए वैक्सीन की खेप भारत पहुंच चुकी है.

जानकारी के मुताबिक रूसी कोरोना वैक्सीन Sputnik-V की पहली खेप भारत आ गई है. हाल ही में फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज को रूसी कोरोना वैक्सीन के भारत में ह्यूमन ट्रायल की अनुमति मिली थी. डॉ. रेड्डीज और स्पुतनिक-वी के वाहन से उतारे जा रहे छोटे कंटेनरों का एक वीडियो बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसके बाद इन सभी कयासों की पुष्टि की जा रही है. उस वीडियो के आधार पर माना जा रहा है कि रूस से वैक्सीन की पहली खेप भारत में ह्यूमन ट्रायल के लिए आ गई है.

एक न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज लैब के एक वरिष्ठ अधिकारी ने भी इस बात की पुष्टि की है कि रूसी वैक्सीन भारत में आ चुके हैं और जल्द ही इसके क्लीनिकल ट्रायल भी शुरू हो जाएंगे. भारत की दिग्गज फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डीज जल्द ही भारत में स्पुतनिक-वी के दूसरे और तीसरे चरण का अडेप्टिव क्लिनिकल ट्रायल शुरू करेगी.