Corona का प्रभाव : 30 हजार शिक्षकों की बहाली टली

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :- कोरोना वायरस की वजह से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है. केंद्र सरकार के द्वारा कोरोना के प्रभाव के चलते अधिकतर राज्यों में स्कूल, कॉलेज, पार्क, जिम, मॉल, भीड़भाड़ वाले बाज़ार एवं सिनेमा हॉल को बंद रखने का दिशा निर्देश जारी किया गया है. कोरोना वायरस से बचाव एवं सुरक्षा की दृष्टि से ही सही पर नागरिकों के सामान्य जीवन पर कोरोना का प्रभाव पड़ रहा है.

बिहार में कोरोना के चलते माध्यमिक-उच्च माध्यमिक शिक्षकों की बहाली को टाल दिया गया है. सूचना के अनुसार छठे चरण के नियोजन के तहत 30 हजार से अधिक रिक्त पदों पर अंतिम रूप से चयनित अभ्यर्थियों को 27 एवं 28 मार्च को जिलास्तर पर नियोजन इकाइयों द्वारा काउंसिलिंग के बाद नियोजन पत्र दिया जाना था. लेकिन कोरोना के कारण शिक्षकों की बहाली पर फिलहाल के लिए रोक लगा दी गयी है.

शिक्षा विभाग के नए नया शेड्यूल के अनुसार अनुमोदित मेधा सूची एवं रोस्टर बिंदु के आधार पर चयनित अभ्यर्थियों की सूची का प्रकाशन 7 अप्रैल तक जबकि जिलास्तर पर काउंसिलिंग के उपरांत नगर निकाय 11 और जिला परिषद 13 अप्रैल को नियोजन पत्रों का वितरण करेंगे.

ज्ञात हो शिक्षा विभाग के द्वारा कुल 30 हजार माध्यमिक-उच्च माध्यमिक शिक्षकों की बहाली की जाने वाली थी. हाई स्कूलों में शिक्षकों के रिक्त पद करीब 12 हजार हैं और प्लसटू स्कूलों में 18 हजार पदों पर शिक्षकों की बहाली करनी है इस प्रकार शिक्षा विभाग कुल 30 हजार शिक्षको को बहाल करने वाली है. वैसे ऐसा पहली बार नहीं हुआ है इससे पहले भी कई बार किसी न किसी कारणवश शिक्षकों के नियोजन शेड्यूल को बदलकर तिथि को आगे बढ़ाया गया है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.