शौचालय पर जिला प्रशासन ने चलवाया बुलडोजर, अंदर बैठा था बुजुर्ग

भागलपुर (TBN – The Bihar Now डेस्क)| एक बुजुर्ग शख्स जब शौचालय में शौच के लिए बैठा था, तभी उस पर बुलडोजर चल गया, जिसके बाद बुजुर्ग बुरी तरह घायल हो गया.

हैरान करने वाला यह मामला भागलपुर (Bhagalpur) में सामने आया है. यहां एक बुजुर्ग शख्स जब शौचालय में शौच के लिए बैठा था तब अतिक्रमण हटाने आए जिला प्रशासन के लोगों ने उसपर बुलडोजर चला दिया. जिसके बाद बुजुर्ग बुरी तरह घायल हो गया. घटना सुल्तानगंज प्रखंड के अठगामा का है.

घायल बुजुर्ग को मायागंज अस्पताल (Mayaganj Hospital, Bhagalpur) में भर्ती कराया गया है. दरअसल श्रावणी मेले को लेकर गुरुवार को नवादा पंचायत स्थित अठगामा में स्थानीय प्रशासन अतिक्रमण हटाने पहुंचा था. इस दौरान बुजुर्ग बासुदेव मंडल शौच करने के लिए शौचालय गए हुए थे तब इस बात की जानकारी अतिक्रमण हटाने आए कर्मियों को नहीं थी.

यह भी पढ़ें| कोबरा ने बच्चे को काटा, फिर खुद मर गया !

जिला प्रशासन की टीम ने इसके बाद अतिक्रमण कर बनाए गए शौचालय पर बुलडोजर चलाने लगे. तब उन्हें पता चला कि शौचालय में अंदर एक बुजुर्ग बैठा है. इसके बाद बुलडोजर को रोका गया. फिर बुजुर्ग को बाहर निकालकर अतिक्रमण हटाया गया.

बुजुर्ग को गंभीर चोट

इधर बुजुर्ग बासुदेव मंडल के बेटे अनुज कुमार ने आरोप लगाया कि उन्होंने जिला प्रशासन के लोगों को बताया कि अंदर उनके पिता है. उनके पिता को शौचालय से बाहर निकलने के बाद तोड़ दिया जाए. लेकिन उनकी बातों का नहीं माना और बुलडोजर से शौचालय तोड़ने लगे. इससे उनके पिता के सिर और शरीर के दूसरे हिस्से में गंभीर चोटें आई है.

मायागज अस्पताल में भर्ती

चोटिल होने के बाद उन्हें सुल्तानगंज अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें मायागंज रेफर कर दिया गया है. मामला गुरुवार का है. सुदेव मंडल की बहू विमला देवी वार्ड सदस्य है. बताया जा रहा है कमिश्नर और डीएम के दौरे से पहले स्थानीय प्रशासन सुबह से ही अतिक्रमण हटाने की तैयारी कर रहा था.

शौचालय नहीं यूरिनल था – सीओ

इधर घटना के बारे में सुल्तानगंज सीओ शंशु शरण राय ने कहा कि जिसे शौचालय कहा जा रहा है वह शौचालय नहीं यूरिनल था. जिसे अतिक्रमण कर सड़क पर बना दिया गया था. बुजुर्ग उसके अंदर है इसकी जानकारी किसी ने नहीं दी थी. अतिक्रमण हटाने के दौरान वासुदेव मंडल को हल्की चोटें आयी हैं.उन्हें इलाज के लिए भेजा गया है. सीओ ने कहा कि अतिक्रमण हटाने के बावत पहले प्रचार किया गया था.

(इनपुट-न्यूज)