पटना में कोरोना के बीच डेंगू का कहर, दर्जनों केस आये सामने

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में कोरोना महामारी के बीच राजधानी पटना में अब डेंगू के मामले भी सामने आने लगे हैं. बदलते मौसम के कारण डेंगू के मामलों में इजाफा हुआ है. पिछले एक सप्ताह के अंदर डेंगू के दर्जनों केस सामने आ चुके हैं. पटना के कई इलाकों में डेंगू ने अपना कहर बरसाना शुरू कर दिया है.

पटना के जिन इलाकों में डेंगू के मरीज मिल रहे हैं उनमें दानापुर, जगदेव पथ, फुलवारीशरीफ और कंकड़बाग का इलाका शामिल है. कोरोना काल में डेंगू पटनावासियों के लिए एक बड़ी मुसीबत बनने लगा है. डेंगू में बुखार आने की वजह से लोग दहशत में हैं. डेंगू के मरीजों का इलाज फिलहाल सरकारी अस्पतालों में संभव नहीं हो पा रहा है लिहाजा वह निजी अस्पतालों का रुख कर रहे हैं.

डेंगू के मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है. लेकिन पीएमसीएच में अब तक डेंगू वार्ड की शुरूआत नहीं हो पाई है. जनरल वार्ड में ही डेंगू के मरीजों का इलाज किया जा रहा है. पीएमसीएच में ओपीडी की सुविधा चालू है लेकिन माइक्रोबायोलॉजी विभाग में डेंगू की टेस्टिंग को लेकर मरीजों को पापड़ बेलना पड़ रहा है. यहां कोरोना के कारण डेंगू के मरीजों का टेस्ट नहीं हो पा रहा है.

डेंगू से बचाव के लिए कई तरह की सावधानी बरतने की आवश्यकता है. डॉक्टरों की मानें तो घर में कहीं भी साफ पानी को जमा नहीं होने देना, शरीर को पूरा ढक कर रखना, सोने के लिए मच्छरदानी का इस्तेमाल करना बेहद जरूरी है. डेंगू के दौरान भी शरीर में दर्द और तेज बुखार के लक्षण पाए जाते हैं. साथ ही साथ शरीर में लाल चकते का निशान, उल्टी होना और सांस लेने में तकलीफ भी शामिल है.