नालंदा जह’रीली श’राब मामले में म’रने वालों की संख्या बढ़कर 11, थाना प्रभारी सस्पेन्ड

नालंदा (TBN – The Bihar Now डेस्क)| रविवार को तीन और लोगों की मौत के साथ ही नालंदा में जहरीली शराब (Nalanda hooch tragedy) पीने से मरने वालों की संख्या 13 हो गई है. इससे पहले शनिवार को जहरीली शराब पीने से आठ लोगों की मौत हुई थी. इसके बाद छोटी पहाड़ी इलाके में सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया है.

जहरीली शराब की घटना को सुलझाने के लिए जिला पुलिस ने इलाके में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है. पुलिस ने रविवार को कहा, “खोज अभियान के दौरान बेहतर जांच के लिए छोटी पहाड़ी को चार भागों में बांटा गया है.”

देर से ही सही, लेकिन नालंदा जिला प्रशासन ने माना, ”प्रथम दृष्टया 11 लोगों की मौत जहरीली शराब पीने से हुई.’ जिलाधिकारी शशांक शुभंकर (Nalanda District Magistrate Shashank Shubhankar) ने मरने वालों के सभी नाम बताए हैं.

डीएम ने कहा, “अब तक छह प्राथमिकी दर्ज की गई हैं, जबकि पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.” जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने बताया कि नालंदा जिले में अब तक 184 लीटर देशी शराब, 225 लीटर विदेशी शराब और 34 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. घटना के बाद से इस इलाके के कई घरों के लोग फरार बताए जा रहे हैं.

उन्होंने बताया कि कांबिंग ऑपरशन के दौरान छोटी पहाड़ी इलाके को चार हिस्सों में बांट कर सर्च अभियान चलाया जा रहा है. इस जहरीली शराबकांड की जड़ों की तलाश में भी पुलिस जुटी हुई है.

यह भी पढ़ें| गाड़ी में आग लगने के मामले में सीओ ने युवती के खिलाफ दर्ज कराई लिखित शिकायत

इस बीच मृतक के परिजनों ने दावा किया कि देशी शराब की खुलेआम बिक्री के लिए पुलिस जिम्मेदार है. मृतक के परिजनों के मुताबिक उन्होंने स्थानीय थाने को इसकी सूचना दी थी, जिसकी पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया. एसपी अशोक मिश्रा ने कहा, सोहसराय थाना प्रभारी सुरेश प्रसाद को निलंबित कर दिया गया है. मामले में आगे की जांच जारी है.

जैसे-जैसे जहरीली शराबकांड का समय बीत रहा है ठीक वैसे ही परत दर परत इस जहरीली कांड की गुत्थी उलझती जा रही है. यही कारण है कि लगातार 24 घंटों से इस जहरीली शराब कांड की गुत्थी को पुलिस सुलझाने को लेकर संयुक्त रूप से नालंदा जिला पुलिस बल के साथ खोजी कुत्ते के सहारे इलाके में कांबिंग ऑपरेशन चला रही है.

इसके अलावा छोटी पहाड़ी इलाके में जो भी अवैध तरीके से शराब के कारोबारी निवास कर रहे हैं उनके घरों को चिन्हित कर मकान को हटाने का काम किया जाएगा.