साइकिल गर्ल के पिता की हृदय गति रुकने से हुई मौत, गांव में पसरा मातम

दरभंगा (TBN – The Bihar Now डेस्क)| पिछले वर्ष कोरोना काल में सुर्खियां बटोरने वाली साइकिल गर्ल ज्योति पासवान के पिता का हृदय गति रुकने से निधन हो गया है. ज्योति के पिता मोहन पासवान के निधन की खबर सुनते ही आसपास के लोग मौके पर पहुंचकर शोकाकुल परिवार को सांत्वना दे रहे है.

बता दें कि दरभंगा जिले के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिरहुल्ली गांव की 13 साल की ज्योति ने अपने पिता मोहन पासवान को साईकिल पर बैठाकर गुरुग्राम से आठ दिन का सफर तय कर के दरभंगा पहुंची थी. इस कारण उसकी देश विदेश में सराहना हुई थी..

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि ज्योति पासवान के पिता मोहन पासवान अपने चाचा को दस दिन पूर्व मुखाग्नि दिये थे. उसी के श्राद्ध कर्म के भोज के लिए समाज के लोगो के साथ बैठक किए. बैठक खत्म होने के बाद जैसे ही मोहन पासवान खड़े हुए की अचानक गिर पड़े और उनकी मौत हो गई. वही ग्रामीणों की माने तो मोहन पासवान की मौत हृदय गति रुकने से हुई है.

गौरतलब है कि 2020 में लगे लॉकडाउन के दौरान अपने बीमार पिता को गुरुग्राम से 13 सौ किलोमीटर साइकिल पर बैठाकर देश-विदेश में सुर्खियां बटोरी थी. वही इस साहसिक कदम के लिए अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति ट्रंप की बेटी ने ज्योति की तारीफ करते हुए कही थी इस तरह की इस तरह का साहसिक कार्य भारत की बेटी ही कर सकती है.

ये भी पढ़ेंबिहार में लॉकडाउन जारी रहेगा 8 जून तक, रहेगी यह छूट

ज्योति के पिता मोहन पासवान गुरुग्राम में ऑटो चलाकर अपने परिवार को चलते थे. लेकिन जनवरी 2020 में एक्सीडेंट होने की वजह से उनके पैर में काफी चोट आई. एक्सीडेंट की खबर सुनने के बाद ज्योति अपने पिता के पास देखभाल के लिए चली गई. उसी बीच पुरे देश में लॉकडाउन लग गया और उनके समक्ष खाने पीने की समस्या खड़ी हो गई. जिसके बाद बाद ज्योति ने 400 सौ रुपया में साइकिल खरीद कर अपने पिता को लेकर दरभंगा लौटी थी.