आसमान से गिरी मौत ने ली 9 की जान

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राज्य के बांका और औरंगाबाद जिलों में शनिवार को वज्रपात से नौ लोगों की मौत हो गई. बांका जिले में वज्रपात से सात लोगों की जान गई जबकि औरंगाबाद जिले में दो जगहों पर ठनका गिरने से दो लोगों की मौत हो गई और चार घायल हो गए.

बांका जिले में मृतकों में अमरपुर, चांदन और कटोरिया के दो-दो और बौंसी का एक व्यक्ति शामिल है. औरंगाबाद जिले में शाम में सदर प्रखंड और मदनपुर प्रखंड में घटी. घायलों का इलाज सदर अस्पताल औरंगाबाद में किया जा रहा है.

बांका जिले के अमरपुर के बाजा गांव में राखी कुमारी और कासपुर गांव में लक्ष्मी देवी की धान रोपनी करने के दौरान ठनका की चपेट में आने से मौत हो गई. वहीं चांदन की बिरनियां पंचायत में दो अलग-अलग जगहों पर वज्रपात से दो लोगों की मौत हो गई. इसके अलावा कटोरिया में ढीबू पंडा व शैलेश कुमार और बौंसी की लाली मुर्मू की मौत हो गई.

बाांका जिले में पहली घटना लुरीटाड़ गांव के बगल बहियार में हुई जहां वज्रपात की चपेट में आने से गांव के योगेन्द्र यादव के पुत्र दीपक कुमार(18) एवं गांव के ही जितेंद्र यादव की पत्नी रेखा देवी (30 ) की मौत हो गई. इधर कटोरिया के तुलसीवरण के दर्वेपट्टी के ढीबू पंडा के पुत्र लालधारी पंडा(35) की मौत ठनका से हो गई. युवक बारिश के दौरान बहियार में खूंटे से बंधे अपने मवेशी लेकर वापस घर लौट रहा था। इसी दौरान वज्रपात की चपेट में आ गया.

Also Read | टीकाकरण एवं विश्व स्तनपान सप्ताह विषय पर जागरूकता कार्यक्रम का हुआ आयोजन

वहीं जयपुर के केरवार गांव निवासी भूषण यादव का पुत्र शैलेश कुमार (15) की मौत भी ठनका की चपेट में आने से हो गई. इस घटना में दो लोग जख्मी भी हुए हैं. जख्मी में खांड़ीपर गांव निवासी अशोक यादव शामिल है. बौंसी के बंधुआकुरावा थाना के गहरा जोर गांव में वज्रपात से शिवलाल सोरोन की पत्नी लाली मुर्मू(60) की मौत हो गई. धान रोपने के दौरान वह ठनका की चपेट में आई.
(सौ:हिन्दु.)