दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ा पहला विमान, बहुप्रतीक्षित मांग हुई पूरी

दरभंगा (निखिल के डी वर्मा – The Bihar Now रिपोर्ट) | नॉर्थ बिहार के दरभंगा का बहुप्रतीक्षित दरभंगा एयरपोर्ट (DBR Airport) आज रविवार 8 नवंबर से काम करने लगा है. इस एयरपोर्ट से आज पहले विमान ने यात्रियों को लेकर अपनी उड़ान भरी.

दरभंगा एयरपोर्ट पर उतरने वाला सबसे पहला विमान स्पाइस जेट (SG – 496) का विमान था जो आज सुबह 11.05 बजे बैंगलोर से आकर इस एयरपोर्ट पर लैंड किया. पहली उड़ान का दरभंगा एयरपोर्ट पर पहुंचते ही तालियों से स्वागत किया गया तथा वाटर सैल्यूट दिया गया. फिर यह विमान सुबह 11:45 में राजधानी दिल्ली के लिए रवाना हुआ जो 01:40 बजे दोपहर नयी दिल्ली पहुंचा. आज से यहां से दिल्ली, बेंगलुरु और मुंबई के लिए तीन जोड़ी स्पाइस जेट की फ्लाइट शुरू हो गई.

इस एयरपोर्ट से उड़ान भरने के लिए फ्लाइट के लिए बुकिंग 20 सितंबर से ही शुरू हो गई थी. सबसे पहला टिकट इंडिया टीवी के संवाददाता जितेंद्र कुमार के नाम रहा. वे सुबह 11:45 स्पाइस जेट के विमान से दरभंगा से नई दिल्ली के लिए रवाना हुए.

इसे भी पढ़ें – कोरोना के 801 नए मरीज मिले, राजधानी पटना में सबसे ज्यादा

दरभंगा हवाईअड्डा के आज से अस्तित्व में आते ही उत्तर बिहार के लोगों का दशकों से बहुप्रतीक्षित मांग पूरी हो गई. यहां से फ्लाइट शुरू होने से मिथिलांचल के लोगों की अन्य शहरों से कनेक्टिविटी स्थापित हो गई. अब उन्हें फ्लाइट के लिए कई किमी दूर पटना नहीं आना होगा.

साथ ही, इस एयरपोर्ट के शुरू होने से इस क्षेत्र को आर्थिक और व्यापार के लिए बहुत फायदा मिलेगा. इससे व्यापार बढ़ेगा और मिथलांचल और बिहार के 22 जिलों सहित नेपाल को बहुत फायदा होगा. यहां से उड़ान शुरू होने से यहां का व्यवसाय तेजी से बढ़ेगा. माना जा रहा है कि मेडिकल क्षेत्र, शिक्षा के क्षेत्र में भी बहुत फायदा होगा.

याद दिला दें, करीब साढ़े 4 साल पहले 15 जून 2016 को स्प्रीट एयरलाइन ने दरभंगा से कोलकाता के लिए उड़ान शुरू की थी. इस एयरलाइन की सिर्फ एक उड़ान ही उड़ पाई थी. उसके बाद तकनीकी कारणों से दोबारा उड़ान नहीं हो पाई. उस उड़ान में एकमात्र यात्री के रूप में पत्रकार दम्पति इंडिया टीवी के संवाददाता जितेंद्र कुमार ने ही यात्रा किया था.

स्प्रीट एयरलाइन के एक ही उड़ान के बाद सेवा का बंद हो जाना, इस क्षेत्र के लोगो को निराश कर दिया था. लेकिन मोदी सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘उड़ान योजना’ के तहत आज से दरभंगा एयरपोर्ट की शुरुआत, चुनाव के बाद यहां के लोगों के लिए बड़ा तोहफा माना जा रहा है.

आपको बता दें कि दरभंगा एयरपोर्ट का निर्माण दरभंगा के महाराज कामेश्वर सिंह ने कराया था. उस समय उनके पास तीन विमान थे. पहले कोलकाता के लिए फ्लाइट चलती थी और उसका लाभ तब व्यापारियों को मिलता भी था.