कांग्रेस विधायक ने संस्कृत में ली शपथ, सदन में बजी जोरदार तालियां

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार विधान सभा की कार्यवाही आज शुरू हो गई है. 17वीं बिहार विधानसभा सत्र के दौरान सदस्यों का बारी-बारी से शपथ ग्रहण दिलाई जा रही है. आज कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान ने संस्कृत में शपथ लेकर सबको चौंका दिया. उनके संस्कृत में शपथ लेने के बाद सदन में जोरदार तालियां बजीं.

इससे पहले सत्र के पहले दिन अधिकतर विधायकों ने हिंदी में शपथ ली. कुछ विधायकों ने अपने क्षेत्रीय भाषा मैथिली में शपथ ली, वहीं दो विधायकों ने इंग्लिश में शपथ ली. शकील के अलावा सोनवर्षा से रत्नेश सदा और सीतामढ़ी से मिथलेश कुमार ने भी संस्कृत में शपथ ली.

बता दें कि निर्वाचित सदस्यों को पांच भाषाओं हिन्दी, अंग्रेजी, मैथिली, उर्दू और संस्कृत में से किसी भी एक भाषा में शपथ लेने की छूट है. शकील ने कहा कि हमने संस्कृत इसलिए चुना क्योंकि हमें लगा कि इन सभी भाषाओं की माता, संस्कृत यहां उपलब्ध हैं.

पहले दिन का सत्र समाप्त होने के बाद कांग्रेस विधायक शकील ने कहा कि संस्कृत भाषा हिंदुस्तान की क्लासिक भाषा है और अगर जाहिलों को समझ में नहीं आता, तो मैं क्या करुं. मैं अपने मातृभाषा ऊर्दू का भी शैदायी हूं, लेकिन मैंने क्लासिक भाषा में शपथ लेने की सोची. इसमें कोई हायतौबा मचाने की कोई जरूरत नहीं है.