ब्रेकिंग: बिहार का साइबर क्रिमिनल छोटू चौधरी हुआ गिरफ्तार

नई दिल्ली / पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार का साइबर क्रिमिनल छोटू चौधरी (Chhotu Chaudhary) को गिरफ्तार कर लिया गया है. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने ये गिरफ्तारी की है. इस बात की जानकारी दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दी है.

छोटू चौधरी मूल रूप से बिहार के नालंदा (Nalanda) का रहने वाला है. छोटू चौधरी गैंग के गुर्गों के द्वारा कोरोनाकाल (Corona Pandemic) के दौरान ऑक्सीजन सहित मेडिकल उपकरणों को जल्द से जल्द उपलब्ध करवाने के नाम पर सैकड़ों लोगों को चूना लगाया जा चुका है. उसके गैंग ने बिहार से दिल्ली, यूपी, हरियाणा, मुंबई में सैकड़ों लोगों को चूना लगा चुका है.

इसके पहले दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की इंटर स्टेट क्राइम ब्रांच की टीम ने बिहार जाकर छोटू गैंग के चार अपराधियों को पकड़कर दिल्ली लाई थी. बिहार- झारखंड में एक्टिव छोटू गैंग के गैंग में करीब 300 साइबर क्रिमिनल काम करते हैं. यह गैंग बिहार में साइबर क्राइम का ‘दूसरा जामताड़ा’ बनाना चाहता है. यह गैंग फर्जी मोबाइल नंबरों के जरिए काम करता था.

कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर में छोटू चौधरी के गैंग के करीब 10 दर्जन से ज्यादा लोगों ने सवा सौ से भी ज्यादा जरूरतमंद / मरीजों के परिजनों को ऑक्सीजन गैस सिलेंडर के नाम लूटा और उसके साथ साइबर क्राइम के मामले को अंजाम दिया था.

कौन है ये छोटू चौधरी

नालंदा का रहने वाला छोटू चौधरी पिछले दो-तीन सालों से साइबर क्राइम (Cyber Crime) के मामलों में संलिप्त रहा है. साइबर क्राइम के जरिए वह कई अवैध संपत्तियों का मालिक भी बन चुका है. छोटू अपनी टीम में बहुत कम उम्र के लड़कों को ही रखता है. ये वैसे लड़कें होते हैं जिन्हें पैसों और मौज मस्ती का लालच देकर उनसे इस तरह के धंधे करवाता है. बाद में उन लड़कों को शातिर अपराधी बना कर अपने इशारे पर काम करवाता है.

आप यह भी पढ़ेंसात फेरों से पहले हुआ कुछ ऐसा कि दिल के अरमां आंसुओं में बह गए

क्राइम ब्रांच के अधिकारी के मुताबिक, छोटू चौधरी गैंग बिहार शरीफ के साथ नालंदा जिला अंतर्गत कई इलाके में साइबर फर्जीवाड़े को अंजाम देता रहा है. वैसे इन साइबर अपराधियों का बिहार से लेकर मुंबई तक कनेक्शन फैला है.

छोटू चौधरी को अब क्राइम ब्रांच की टीम (Delhi Police Crime Branch Team) नालंदा से दिल्ली ले जा रही है.