बिहार पुलिस को यकीन है सुशांत के फ्लैट के CCTV में छिपे हैं कई राज!

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले को लेकर पटना में दर्ज FIR के सिलसिले में बिहार पुलिस मुंबई में है. पटना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार वह आज सुशांत के घर का फुटेज लेगी. इसके साथ ही मुंबई पुलिस से सीसीटीवी (CCTV) हासिल करने की कोशिश करेगी.

बता दें कि पटना पुलिस की पूछताछ में सुशांत के नौकर ने घटना के एक दिन पहले पार्टी से इनकार किया था, लेकिन पटना पुलिस टीम को यकीन है कि सीसीटीवी फुटेज में कई रहस्य छिपे हैं. इस बात की जानकारी पटना पुलिस के एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर दी है.

पटना पुलिस टीम के इस अधिकारी ने हमें बताया कि सुशांत के नये ड्राइवर और स्टाफ से पुलिस को बातचीत करने में परेशानी हो रही है. दरअसल बातचीत करने के लिए सही टाइम नही नहीं मिल रहा है. वहीं, मुंबई पुलिस आज बकरीद में व्यस्त है लिहाजा पटनां पुलिस खुद से इस मामले की जांच को आगे बढ़ाना चाहती है, लेकिन मुश्किलें बढ़ रही हैं.

गौरतलब है कि पटना पुलिस आज फिल्म ‘दिल बेचारा’ की कास्ट और दूसरे क्रू मेंबर्स से भी पूछताछ करने जा रही है. यह फ़िल्म OTT प्लेटफॉर्म पर हाल ही में रिलीज हुई है. पुलिस इनसे मिलकर ये समझना चाहती है कि सुशांत सिंह का फ़िल्म के सेट पर किस तरह का व्यवहार था.

इस बीच शुक्रवार को मुंबई पुलिस का बिहार पुलिस के अधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार की खबरों पर जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि मुंबई पुलिस बिहार पुलिस के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार कर रही है. बिहार पुलिस के जवानों को कैदी वैन में बिठाना निंदनीय है. सुशांत सिंह मामले में चल रही जांच सीएम नीतीश कुमार के समर्थन से ही आगे बढ़ रही है.

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे पर सवाल खड़ा करते हुए जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि आखिर CBI जांच से क्यों भाग रहे हैं. पूरे मामले में दोषियों को बचाने की कोशिश हो रही है. बहरहाल पटना पुलिस के इनकार के बावजूद बिहार डीजीपी का ट्वीट इस मामले में काफी कुछ कह जाता है.

वहीं बता दे की आरजेडी ने सुशांत मामले में बिहार सरकार पर सिर्फ बयानबाजी का आरोप लगाते हुए तत्काल CBI जांच करने की मांग की है. आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने सवाल पूछा कि आखिर बिहार सरकार सीबीआई जांच की अनुशंसा क्यों नहीं कर रही है? बिहार पुलिस की मुंबई में क्यों फजीहत हो रही है?

Advertisements