बिहार बोर्ड का फैसला, सेंटअप परीक्षा पास करना अब जरुरी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | हाल ही में शिक्षा नीतियों में काफी बदलाव किया गया है. इस नई शिक्षा निति में 10+2 के फार्मेट को पूरी तरह खत्म कर 5+3+3+4 फार्मेट में ढाला गया है.

इसके बाद बिहार बोर्ड ने फैसला लिया है जिसमें अब मैट्रिक और इंटर की वार्षिक परीक्षा 2021 में शामिल होनेवाले छात्र-छात्राओं को फॉर्म भरने के बाद सेंटअप परीक्षा पास करना अनिवार्य होगा. इसके बाद ही उनको एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा, अन्यथा नहीं.

बोर्ड ने कहा है कि स्कूल-कॉलेज सेंटअप परीक्षा में पास व फेल छात्र-छात्राओं की सूची अलग-अलग भेजेंगे. उसी आधार पर एडमिट कार्ड जारी होगा. जो छात्र सेंटअप परीक्षा में फेल हो जाएंगे उन्हें स्कूल में परीक्षा फॉर्म की राशि वापस करने के लिए आवेदन देना होगा. इसके बाद उनकी राशि वापस कर दी जाएगी.

बोर्ड ने कहा है कि इंटर परीक्षा 2019 और 2020 में वैसे सफल छात्र, जो किसी एक अनुत्तीर्ण विषय में अथवा वैसे किसी एक विषय जो उन्हाेंने पहले नहीं लिया हाे, उनकी परीक्षा दे सकते हैं. अगर वे इंटर परीक्षा 2021 में क्वालिफाइंग परीक्षार्थी के रूप में शामिल होना चाहते हों तो, उनका भी शिक्षण संस्थान के प्रधान द्वारा ऑनलाइन परीक्षा आवेदन भरा जाएगा और परीक्षा शुल्क जमा किया जाएगा.