पुलिस और डॉक्टर की टीम पर हमला

मोतिहारी (TBN रिपोर्ट) :- बिहार में कोरोना से निपटने के लिए राज्य सरकार हर तरह के संभव प्रयास कर रही है वहीँ समाज के कुछ असभ्य लोग सरकार की हर बात को नकारते हुए क़ानून का उल्लंघन कर अपनी मनमर्जी करने में जुटे हैं और आक्रामक होकर सरकारी कर्मियों पर हमले करने से भी बाज नहीं आ रहे है.

ऐसा ही एक ताज़ा मामला मोतिहारी के हरसिद्धि थाना के जगपकड़ गांव से सामने आया है जहाँ लॉकडाउन का अनुपालन और सोशल डिस्टेंसिंग सिखाने गई पुलिस और स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया. इस हमले में दो पुलिसकर्मियों और ब्लॉक हेल्थ मैनेजर को चोटें आईं है. जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इस मामले में जानकारी देते हुए एसडीओ धीरेन्द्र मिश्र ने बताया कि पुलिस को सूत्रों के द्वारा सूचना मिली थी कि जगपकड़ गांव के महादलित टोले में लोग लॉकडाउन का पालन नहीं कर रहे हैं. जिसके बाद सूचना के आधार पर स्वास्थ्यकर्मी और हरसिद्धि बीडीओ के नेतृत्व में पुलिस प्रशासन की टीम ग्रामीणों को जागरुक कर सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में बता रही थी. इस दौरान गाँव में खुले दुकान को बंद भी कराया जा रहा था. लेकिन तभी ग्रामीण भड़क गए और लॉकडाउन का अनुपालन करने से मना कर दिया और पुलिस व स्वास्थ्यकर्मियों की टीम को घेरने लगे.

घटना की  जानकारी मिलते ही स्वास्थ्यकर्मी और पुलिस की टीम को रेस्क्यू करने मौके पर दल बल के साथ पहुंचे एसडीओ को देखकर ग्रामीण आक्रोशित हो गए और ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्यकर्मियों पर पथराव करते हुए हमला कर दिया.

इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ियों को निशाना बनाते हुए जमकर पथराव किया जिससे कई पुलिस वाहनों के शीशे टूट गए और गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गयी हैं वहीँ ग्रामीणों द्वारा किये गए  इस हमले में एसडीओ के बॉडीगॉर्ड समेत दो पुलिस वाले घायल हो गए. वहीं एक ब्लॉक हेल्थ मैनेजर को भी चोट लगी है. इसके साथ ही  5 पुलिस कर्मियों को भी हल्की चोटें आई हैं.

Advertisements