अब ASCI इस संस्था के साथ मिलकर करेगी डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर भी विज्ञापनों की मॉनीटरिंग

नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क) | ‘ऐडवर्टाइजिंग स्टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ (ASCI) ने राष्ट्रीय विज्ञापन निगरानी सेवा (NAMS) के तहत की जा रही प्रिंट और टेलिविजन मीडिया पर विज्ञापनों की मॉनीटरिंग के साथ इसमें डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को भी शामिल करने के लिए ‘टैम मीडिया रिसर्च’ (TAM Media Research) के साथ पार्टनरशिप की है.

TAM के साथ पार्टनरशिप के तहत ‘ऐडवर्टाइजिंग स्टैंनडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ डिजिटल मीडिया पर फूड और बेवरेज, हेल्थकेयर और एजुकेशन सेक्टर्स से जुड़े विज्ञापनों की जांच करेगी. बताया जाता है कि पिछले साल ‘ऐडवर्टाइजिंग स्टैंचडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ ने इन तीनों सेक्टर्स से जुड़ी सबसे ज्यादा शिकायतों पर कार्रवाई की थी.

वर्तमान में मीडिया पर किए जाने वाले विज्ञापन खर्च में डिजिटल एडवर्टाइजिंग करीब 30 प्रतिशत है और यह तेजी से बढ़ रही है. इस पार्टनरशिप के तहत डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर संदिग्ध व भ्रामक विज्ञापनों की मॉनीटरिंग की जाएगी.

इस मामले में ‘ASCI’ के चेयरमैन रोहित गुप्ता का कहना है, ‘हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जो तेजी के साथ दिनोंदिन और ज्यादा डिजिटल होती जा रही है. ऐसे में तमाम मार्केटिंग भी इस तरह के प्लेटफॉर्म्स की ओर शिफ्ट हो रही है. एक सेल्फ रेगुलेटरी बॉडी के तहत हमने ऑफलाइन के अलावा ऑनलाइन की मॉनीटरिंग के लिए अपना दायरा बढ़ाया है. मेरा मानना है कि दुनिया में ‘ASCI’ ही एकमात्र ऐसी स्व: नियामक संस्था (self-regulatory organisation) है, जो विज्ञापनों की इतनी व्यापक मॉनीटरिंग करती है. हमें टैम से बेहतर पार्टनर नहीं मिल सकता, इसकी प्रतिष्ठा और व्यापक अनुभव हमें विज्ञापन में विश्वास बढ़ाने और यह सुनिश्चित करने के अपने मिशन को हासिल करने में मदद करेगा कि हमारे नैतिक मूल्यों का पालन किया जाए.’
(साभार: समाचार4मीडिया)