ममता मेहरोत्रा की कविताओं पर कलाकारों ने किया चित्र का सृजन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| रविवार को राजधानी पटना में पाटलीपुत्र स्थित लिट्रा पब्लिक स्कूल (Litera Public School, Patliputra) एवं ‘कलांगन इंस्टीच्यूट ऑफ़ परफॉर्मिंग आर्ट’ (Kalangan Institute of Performing Arts) के द्वारा संयुक्त रूप से एक खास कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इसमें देश की प्रसिद्ध कथाकार एवं कवयित्री ममता मेहरोत्रा की कविताओं (Poems of the country’s famous story writer and poet Mamta Mehrotra) पर राज्य के समकालीन कला के कलाकारों ने चित्र सृजित किया.

इस काव्यगोष्ठी सह चित्रकला कार्यशाला (Poetry cum Painting Workshop) का विधिवत उद्घाटन उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसन्धान के निदेशक अशोक कुमार सिन्हा ने किया. सिन्हा ने सभी प्रतिभागियों को कैनवास, तूलिका, रंग सामग्री के साथ टिकुली लोकचित्र शैली की कलाकृति स्मृति चिन्ह के रूप में भेंट किया.

इस अवसर पर कवयित्री ममता मेहरोत्रा ने अपनी स्त्री-विमर्श विषयक कविताओं का पाठ किया. उनकी कविताओं को सुनकर सभी कलाकारों ने चित्र सृजित किया. इस चित्रकला शिविर में राज्य के डेढ़ दर्जन कलाकारों ने चित्र फलक पर ‘स्त्री का सपना’ शीर्षक से चित्र सृजित किया.

एक तरफ जहां वीरेंद्र कुमार सिंह ने अपने चित्र फलक ‘सफलता की उड़ान’ विषयक चित्र सृजित किया, वहीं दूसरी ओर नीतू सिन्हा ने ‘मेघ प्रकृति’ नामक चित्र सृजित किया. मनोज कुमार साहनी ने ‘उड़ान’ शीर्षक से चित्र बनाये. रंजीत कुमार के चित्र का विषय ‘सशक्त नारी’ था.

यह भी पढ़ें| मामूली सी बात पर विधायक के बेटे ने की गोलीबारी

पुरुषोत्तम कुमार ‘नारी शक्ति’ विषयक चित्र सृजित किए जबकि चित्रकार आशानंद राय ने अपने चित्रफलक पर ‘लाइटिंग कैंडल’ नामक चित्र सृजित किया. सुश्री अनुभूति, आदित्य, सौरभ, प्रवीण , विकास, नाइजर, सोनू, साहिति सिद्धार्थ, आकांक्षा एवं अन्य कलाकारों ने भी अपने चित्रफलक पर स्त्री विमर्श को चित्रित किया.

इस खास कार्यक्रम की समाप्ति पर लिट्रा पब्लिक स्कूल के मार्केटिंग हेड आशुतोष मेहरोत्रा ने धन्यवाद ज्ञापन किया. इस अवसर पर सामयिक परिवेश की वरिष्ठ सदस्या विभा सिंह एवं मनोज कुमार बच्चन उपस्थित थें. प्रसिद्ध नृत्यांगना इमली दास गुप्ता, मनीषा कुमारी ने इस कार्यक्रम में शिरकत किया वहीँ चित्रकार प्रेम शंकर ने इस कार्यक्रम का संयोजन किया.