चक्रवाती तूफान यास के कारण अलर्ट, घर से बाहर न निकलने की अपील

पटना (TBN – The Bihar Now रिपोर्ट)| पटना जिला प्रशासन ने चक्रवाती तूफान यास (Yaas) के मद्देनजर सभी विभागों को अलर्ट रहने को कहा है. पटना के जिलाधिकारी ने बिजली विभाग, नगर निगम, अग्निशमन और वन विभाग के अधिकारियों को 30 मई तक सतर्क रहने को कहा है.

डीएम ने कहा है कि चक्रवाती तूफान यास के कारण पटना जिले में तेज हवा, वज्रपात, पेड़ों का टूटना, जलजमाव और विद्युत आपूर्ति बाधित हो सकती है.

26 मई से 30 मई तक रहेगा प्रभाव

पटना के डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने एक पत्र जारी किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा स्थित मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा जानकारी दी गई है कि पटना में चक्रवाती तूफान जो बंगाल की खाड़ी से उत्पन्न हो रहा है, इसका प्रभाव जिले में 26 मई से 30 मई के बीच रह सकता है.

तूफान के कारण भारी बारिश, तेज हवा, बज्रपात से जलजमाव व विद्युत आपूर्ति में बाधा हो सकती है. इसीलिए डीएम ने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि संप हाउस को 24 घंटे चालू रखें. यदि तूफान या भारी बारिश के कारण बिजली की आपूर्ति बाधित हो जाती है, तो ऐसी स्थिति में सभी जगहों पर जेनेरेटर की सुविधा रखें ताकि जलजमाव की स्थिति में पटना शहर से जल की निकासी की जा सके.

डीएम ने बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि तेज हवा के कारण बिजली के खंभे और तार टूट सकते हैं. ऐसी स्थिति में अपने स्तर से कर्मियों एवं अधिकारियों की तैनाती करें, ताकि विद्युत आपूर्ति को तुरंत ठीक किया जा सके. नगर निगम और वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि यदि तेज हवा के कारण सड़क या अन्य जगहों पर पेड़ गिर जाते हैं तो ऐसी स्थिति में उसे तत्काल हटाने के लिए व्यवस्था रखें.

पटना शहर में 9 बड़े नाले हैं, इनसे पानी की निकासी नियमित हो, इसीलिए सभी जगहों पर नगर निगम के कर्मचारियों की तैनाती करने को कहा है. डीएम ने लोगों से अपील की है कि चक्रवात को देखते हुए घरों से नहीं निकलें, क्योंकि इस दौरान हादसा हो सकता है. खासकर बच्चों, बुजुर्ग और महिलाओं को कदापि घर से नहीं निकलने दें.

आप यह खबर भी पढ़ेंबिहार में अब बिना रजिस्ट्रेशन वैक्सीन ले सकेंगे 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले

इधर चक्रवर्ती तूफान यास (Yaas) को लेकर पटना के मौसम विभाग के वैज्ञानिक आशीष भारती ने बताया कि यह साइक्लोन कल दोपहर में सागर आइलैंड तथा बंगाल द्वीप के बीच में टकराएगा. उसके बाद यह साइक्लोन नार्थ ईस्ट के साइड में जाने की संभावना है. इसके परिणाम स्वरूप बिहार के दक्षिणी जिलों में भी इसका असर दिखेगा. इसमें कुछ जिलों में आज और कल अधिक वर्षा होने की संभावना है. इसके अलावा परसों दक्षिण बिहार के कुछ जिलों में ज्यादा वर्षा होगी और अगले पांच से छह दिनों तक राज्य में हल्की बारिश होने की संभावना है.