उफनती नदी में NDRF की बोट पर महिला ने दिया बच्ची को जन्म

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में आई बाढ़ की वजह से दिल को झकझोरने वाली कई घटनाएं समाने आ रहीं हैं. ऐसा ही एक मामला पूर्वी चंपारण जिले में बंजरिया से सामने आया है. बाढ़ के बीच दर्द से छटपटा रही एक गर्भवती महिला का प्रसव एनडीआरएफ (NDRF) की टीम ने अपनी बोट पर कराया. उफनती नदी में बोट पर बच्‍ची के जन्‍म के साथ जब किलकारी गूंजी तो सबने राहत की सांस ली. इसके बाद एनडीआरएफ ने माँ- बेटी को सुरक्षित अस्‍पताल पहुंचाया। जिसे भी इस घटना की जानकारी मिली, आश्चर्य से वाह-वाह करने लगा.

NDRF ने बाढ़ में फंसी महिला को बचाया

पूर्वी चम्पारण जिले में बाढ़ राहत व बचाव कार्य के दौरान एनडीआरएफ की 9वीं बटालियन को बूढ़ी गंडक नदी के बाढ़ प्रभावित बंजरिया प्रखंड के गोबरी गांव में प्रसव पीड़ा से छटपटाती एक गर्भवती महिला के फंसे होने की सूचना मिली. इसके बाद एनडीआरएफ की टीम वहां रेस्क्यू बोट लेकर पहुंच गई. एनडीआरएफ की टीम पीड़ित महिला रीमा देवी को स्‍वजनों व एक आशा कार्यकर्ता के साथ लेकर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र के लिए निकल गई.

बोट पर ही दिया बच्‍ची को जन्‍म

बूढ़ी गंडक नदी में महिला के पास बोट पहुंचने तक महिला की स्थिति खराब हो गई. तब एनडीआरएफ ने उफनती नदी में बेाट पर ही प्रसव काराने का फैसला लिया. फिर, एनडीआरएफ टीम, आशा कार्यकर्ता व परिवार की महिलाओं के सहयोग से बोट पर ही महिला ने एक बच्‍ची को जन्म दिया. इसके बाद एनडीआरएफ टीम ने महिला और उसकी बच्‍ची को एंबुलेंस की मदद से बंजरिया के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करा दिया.