तीस लाख रूपए का 2 क्विंटल गांजा जब्त, तीन तस्कर गिरफ्तार

मुंगेर (अभिषेक कुमार सिन्हा – the bihar now डेस्क) | जिला की एसपी लिपि सिंह को मिली गुप्त सूचना के आधार पर मुंगेर पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई में तारापुर थाना क्षेत्र के लखनपुर गाँव के पास 2 क्विंटल गांजा बरामद किया है. इसके साथ ही अंतर्राज्यीय गांजा तस्करी के बड़े नेटवर्क का उद्भेदन किया गया है. बाजार में बरामद गांजा की कीमत तीस लाख रूपए आंकी जा रही है. गिरफ्तार किए गए 3 तस्करों के खिलाफ तारापुर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है.

एसपी को मिली थी गुप्त सूचना

मुंगेर एसपी लिपि सिंह को सूचना मिली थी कि एक ट्रक में गांजा लोड कर गुवाहाटी से पटना ले जाया जा रहा है. इसके बाद एसपी ने तुरंत जिला आसूचना इकाई और तारापुर थाना की टीम बनाई और आवश्यक कार्रवाई का निर्देश दिया. आसूचना इकाई के प्रभारी शैलेश कुमार के नेतृत्व में स्पेशल टीम का गठन कर तारापुर भेजा गया. वहीं तारापुर एसडीपीओ पंकज कुमार के नेतृत्व में स्पेशल टीम द्वारा तारापुर थानाध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार के सहयोग से घेराबंदी कर कार्रवाई की गई.

फिर तारापुर थानांतर्गत लखनपुर में एक लाइन होटल पर खड़ी ट्रक की तलाशी ली गई. यह तलाशी दंडाधिकारी की मौजूदगी में हुई. ट्रक के केबिन से गांजा बरामद किया गया जिसे एक सेफ बॉक्स में रखा गया था. साधारण तौर पर इस सेफ बॉक्स का पता लगाना काफी मुश्किल था क्योंकि इसे केबिन में सीट के पिछले हिस्से में बहुत ही होशियारी से बनाया गया था. पूछताछ के दौरान, हालांकि चालक ने ट्रक में गांजा होने की बात स्वीकार कर ली. पुलिस को ट्रक में से 5 किलो गांजा के 28 पैकेट और 15 किलो गांजा के 4 पैकेट मिले.

गांजा बरामद होने के बाद ट्रक ड्राइवर नीतीश कुमार राय के अलावा ट्रक पर सवार स्वदेश घोष और खलासी मुनेश्वर ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया गया. इस दौरान ट्रक ड्राइवर नीतीश कुमार राय, ट्रक पर मौजूद प्रदेश स्वदेश घोष और खलासी मुनेश्वर ठाकुर को गिरफ्तार किया गया. चालक और खलासी पटना जिला अंतर्गत अथमलगोला थाना क्षेत्र के कमरापर गाँव के रहने वाले हैं जबकि स्वदेश घोष अगरतला का रहने वाला है. गिरफ्तार अभियुक्तों ने बताया है कि गुवाहाटी में ट्रक पर गांजा को लोड किया गया था तथा उसे पटना सिटी के कच्ची दरगाह में मुख्य सरगना को सौंपा जाना था. वैशाली जिले का सुजीत राय इस गैंग का मास्टरमाइंड है और काफी सालों से वह गांजा तस्करी के नेटवर्क को संचालित कर रहा था.

अगरतला का गांजा था जिसे वैशाली में होना था डिलीवर

खबरों के मुताबिक, ट्रक से बरामद गांजा अगरतला से गुवाहाटी लाया गया जिसे नीतीश कुमार राय के ट्रक पर लोड कर बिहार लाया जा रहा था. गांजा को अगरतला निवासी स्वदेश घोष के द्वारा सुजीत राय तक पहुंचाया जाना था. पूछताछ में पता चला कि स्वदेश घोष लगभग हर महीने दो से चार बार गाँजा लेकर बिहार और दूसरे राज्य आता था.

गिरफ्तार अभियुक्तों ने स्वीकार किया है कि गांजा को कच्ची दरगाह के पास उतारकर नाव के रास्ते वैशाली भेज दिया जाता था. गिरफ्तार अभियुक्तों ने बताया कि वैशाली के दियारा इलाके से गांजा तस्करी का बड़ा नेटवर्क संचालित होता है. दियारा स्थित राघोपुर से राज्य के कई जिलों के साथ दूसरे राज्यों में गांजा की आपूर्ति की जाती है.

गिरफ्तार अभियुक्तों ने स्वीकार किया है कि गाँजा को पटना सिटी के कच्ची दरगाह के पास किसी सुनसान जगह पर दूसरी गाड़ी में लोड कर वैशाली भेज दिया जाता था. पटना सिटी के कच्ची दरगाह इलाके में गांजा उतारकर नाव के रास्ते वैशाली द्वारा भेज दिया जाता था तथा वैशाली के दियारा इलाके से गांजा तस्करी के बड़े नेटवर्क को संचालित किया जाता था. वैशाली के राघोपुर से बिहार के कई जिलों और दूसरे राज्यों में गांजा की आपूर्ति की जाती है.