नदी के पानी में हज़ारों आधार कार्ड तैरते मिलें लावारिस

बेतिया (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बेतिया जिले में अधिकारीयों और डाक विभाग की एक बार फिर बड़ी लापरवाही सामने आई है. लगभग हज़ारों की संख्या में आधार कार्ड नदी में तैरते दिखे. चनपटिया प्रखंड के घोघा सिकरहना नदी में लगभग हजारों आधार कार्ड को प्रवाहित कर दिया गया है.

जिस आधार कार्ड को भारत सरकार द्वारा सर्वश्रेष्ठ ID कार्ड माना गया है, वही आधार कार्ड आज नदी में तैरते दिखे. आधार कार्ड को बनवाने के लिए लोग महीनों दर-बदर भटकते रहते है, जिसके कारण बहुत सारे गरीबों को सरकारी लाभ प्राप्त नहीं हो रहा है, उसी आधार कार्ड को डाक विभाग और अधिकारी मिलकर पानी में प्रवाहित कर रहे है.

नदी में भारी संख्या में आधार कार्ड को तैरता देख ग्रामीणों ने नाव के सहारे लगभग 500 आधार कार्ड बाहर निकाले. सभी आधार कार्ड चनपटिया प्रखंड के घोघा पंचायत और अगल-बगल पंचायत के ही बताये जा रहे हैं. इतनी बड़ी लापरवाही को देख ग्रामीणों में डाक विभाग और डाकिया के खिलाफ आक्रोश है. ग्रामीणों ने बताया कि ऐसे लापरवाह अधिकारी को तुरंत निलंबित किया जाना चाहिए. जिस आधार के बिना आज भारत में कोई लाभ नहीं मिल रहा है. उसी आधार को पानी में यत्र तत्र फेंक देना कहीं से उचित नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.