प्रवासी मजदूरों की गुंडागर्दी, रोड़ेबाजी में बीडीओ तथा सीओ घायल

सुरसंड/सीतामढ़ी (संजय पासवान) । सीतामढ़ी में गुरुवार को क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूरों की गुंडागर्दी देखने को मिला जब वे अपने घरों को जाने को उतावले हो गए और सड़क जाम कर हंगामा करने लगे.

बताया जाता है कि प्रखंड मुख्यालय स्थित सरयू उच्च विद्यालय में रह रहे पाँच प्रवासी मजदूरों में कोरोना वायरस संक्रमण का पोजिटिव रिपोर्ट की जानकारी मिलते ही वहां रह रहे अन्य प्रवासी मजदूर अचानक से अपने घर जाने की जिद करने लगे. इनमें से कुछ प्रवासियों का क्वारेंटाइन समय पूरा हो चुका था तथा कुछ का बाकी था. सभी साथ मिलकर हंगामा करते हुए सबों ने सुरसंड पुपरी सड़क खंड को जाम कर दिया.

मिली जानकारी के अनुसार, प्रखंड स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे पाँच लोगों में कोरोना संक्रमण की जानकारी मिलते ही वहां रह रहे अन्य सभी प्रवासियों में दहशत का माहौल फैल गया.

घटना की जानकारी स्थानीय प्रशासन को मिली. इसकी सूचना पर बीडीओ मोहम्मद यूनुस सलिम, सीओ संजय कुमार,थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर भोला कुमार सिंह के अलावा अन्य पदाधिकारी दलबल के साथ वहां पहुंच गए.

सभी पदाधिकारियों ने घर जाने को आतुर प्रवासी मजदूरों को समझाने की काफी कोशिश की लेकिन लोगों ने जाम हटाने की बजाए रोड़ेबाजी करना शुरू कर दिया. इस रोड़ेबाजी में बीडीओ, सीओ,थानाध्यक्ष के अलावा अन्य पुलिस बल जख्मी हो गए.

इसके बाद झड़प के दौरान पदाधिकारियों के जख्मी होने की सूचना मिलते ही पुपरी डीएसपी संजय कुमार पांडेय ने पहुंचकर मामले की तहकीकात कर जानकारी लिया. उन्होंने कहा कि रोड़ेबाजी कर रहे प्रवासी मजदूरों की पहचान की जा रही हैं तथा सभी के ऊपर कार्रवाई की जाएगी.

बताया जा रहा है कि झड़प के बाद प्रवासियों ने सड़क जाम समाप्त कर क्वारेंटाइन सेंटर में वापस चले गए. कुछ प्रवासी मजदूरों के घर चले जाने की भी अपुष्ट सूचना है.