पुलिस के सामने शराब तस्करों का ग्रामीणों पर हिंसक हमला

 मधुबनी (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट)- बिहार में शराबबंदी कानून भले ही लागू कर दिया हो लेकिन जिस तरह से बेखौफ होकर शराब के तस्कर बिहार में शराब के अवैध कारोबार का संचालन कर रहे हैं उसे देखकर लगता है कि शराबबंदी कानून शराब के तस्करों के लिए बस एक नाम का ही कानून बनकर रह गया है. अगली खबर हरलाखी थाना क्षेत्र के हुर्राही गाँव से आ रही है. गाँव में पुलिस की मौजूदगी में तस्करों ने गाँव वालों को दौड़ा दौड़ाकर पीटा. इस घटना में आधा दर्जन ग्रामीण घायल हो गए. घायल ग्रामीणों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को हुर्राही गाँव में शराब तस्कर भारी मात्रा में शराब लेकर जा रहे थे. तभी तस्करों को देखकर ग्रामीण उनका  पीछा करने लगे और कान्हरपट्टी के पास खरंजा वाले रास्ते मे तस्करों को पकड़ लिया. तस्करों और ग्रामीणों में आपस में वहस के बाद विवाद होने लगा इतने में ही तस्करों ने ग्रामीणों पर हमला बोल दिया और वहां से भाग निकले. ग्रामीणों ने मौके से एक बोरी शराब जब्त कर पुलिस के हवाले कर दी. शराब की बोरी को लेकर ग्रामीण और पुलिस हुर्राही चौक पर पहुंचे ही थे कि चौक पर पहले से दर्जनों की संख्या में मौजूद तस्करों ने पुलिस के सामने ही ग्रामीणों पर लाठी और बांस से हमला कर दिया. इस हमले में आधा दर्जन ग्रामीण घायल हो गए. हालांकि थाना के एसआइ धनंजय सिंह ने बीच बचाव कर फ़ौरन मामले को शांत करा दिया. घटना स्थल पर मौजूद ग्रामीणों के अनुसार हुर्राही गाँव में लगातार कई माह से शराब तस्करी की शिकायत पुलिस से की जा रही थी. लेकिन पुलिस के द्वारा समय रहते कार्यवाही करने से पहले गाँव वाले शराब तस्करों से भिड गए.

शराब तस्करों के द्वारा किये गए हमले में घायल हुए ब्रह्मदेव सिंह, मुकेश कुमार मंडल, राजीव कुमार मंडल, नवीन कुमार मंडल, प्रदीप सिंह, कुंदन कुमार का इलाज चल रहा है.

घटना को लेकर गांव में तनाव की स्तिथि बनी हुई है. ग्रामीणों ने तनाव बढ़ते देख एसडीपीओ और एसपी को घटना की सूचना देकर अवगत कराया. उसके बाद थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने समस्त पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर हालात को काबू कर लिया. इस घटना के बारे में बोलते हुए थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि “हुर्राही चौक पर एक गुमटी का विवाद चल रहा है. इसको लेकर कई तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं. घटना की जांचकर दोषी पर सख्त कार्रवाई की जाएगी”. फिलहाल तनाव के हालात को देखते हुए पुलिस ने गाँव में चौकसी बढ़ा दी है.