बीजेपी प्रत्याशी के सामने बहू हुई बागी, भरा निर्दलीय नामांकन

बगहा (इमरण अजीज – The Bihar Now रिपोर्ट) | बगहा से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां विधानसभा चुनाव में घर के रिश्ते भी टूटने लगे हैं. रामनगर की बीजेपी विधायक भागीरथी देवी इस बार भी बीजेपी की प्रत्याशी है. इसी बीच उनके विरुद्ध उनकी पुत्र-बहु रानी कुमारी ने बागी होकर बतौर निर्दलीय नामांकन कर उनकी मुश्किलें बढ़ा दी हैं.

बीजेपी प्रत्याशी विधायक भागीरथी देवी की बहू रानी कुमारी ने अपनी विधायिका सास पर उत्पीड़न के साथ ही कई गंभीर आरोप लगाए हैं. बहू ने आरोप लगाया है कि जो अपना परिवार संभालने में असमर्थ है, वह समाज की भलाई नहीं कर सकता है.

आप ये भी पढ़ सकते हैं –
शुरू होंगी कल से योगी आदित्यनाथ की ताबड़तोड़ रैलियां
एजाज अहमद ने की घर वापसी, तेजस्वी ने दिलाई RJD की सदयस्ता

मीडिया से बातचीत करते हुए रानी देवी ने कहा कि मुझे भागीरथी देवी से कुछ लेना-देना नहीं है. उन्होंने कहा कि रामनगर मेरी धरती है और मैं यहां जनता की सेवा करना चाहती हूं. रानी देवी ने अपनी सास के बारे ने कहा कि वे मेरी दुश्मन हैं तथा उन्होंने मेरी हत्या करने का प्रयास भी किया हैं.

बता दें कि पदमश्री सम्मान प्राप्त भागीरथी देवी लगातार चार बार नरकटियागंज और रामनगर से विधायक रह चुकी हैं. आगामी विस चुनाव में वे फिर से पांचवी बार रामनगर सुरक्षित सीट से बीजेपी की उम्मीदवार हैं. बहू के ताल ठोकने के बाद भागीरथी की मुसीबत बढ़ता हुआ दिख रहा है.