P.U. में छात्राओं से अश्लील हरकतों का विरोध करने पर शिक्षिका को पीटा

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट)- पटना विश्वविद्यालय में होली के त्यौहार पर आपराधिक पृष्ठभूमि के कुछ छात्र हुड़दंग मचाते हुए छात्राओं से अश्लील हरकतें करने लगे. विश्वविद्यालय में इस तरह की घटना होते देख एक शिक्षिका ने छात्रों का विरोध किया जिसके बाद विरोध करने पर मनचले छात्र शिक्षिका को पीटने लगे. लेकिन शिक्षिका ने दबंग छात्रों से डटकर मुकाबला किया. इस घटना में छात्रों के हमले से शिक्षिका घायल हो गयी. जिसके बाद उनको पारस अस्पताल पहुँचाया गया. फिलहाल उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है.

इस घटना में घायल शिक्षिका से मिलने और उनकी हालात का जायजा लेने पारस अस्पताल पहुंचे बिहार भाजपा विधान पार्षद सह प्रवक्ता डॉo (प्रोo) नवल किशोर यादव ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि  “पटना विश्वविद्यालय प्रशासन अगर अपने शिक्षिकाओं- छात्राओं का मान- सम्मान नहीं बचा सकता तो वीसी- रजिस्ट्रार- प्रोक्टर को पद पर बने रहने का कतई अधिकार नहीं है। यह हमला कायरतापूर्ण है और इसकी जितनी निंदा की जाए कम होगी”।

नवल किशोर यादव ने आगे कहा कि “पटना विश्वविद्यालय के इतिहास में यह कितनी शर्मनाक घटना है कि होली के हुरदंग के नाम पर छात्राओं को अश्लील हरकत कर रहे छात्रों से एक शिक्षिका ने बहादुरी से भीड़कर बचाया जिसके बाद आपराधिक पृष्ठभूमि के उन छात्रों ने शिक्षिका पर जानलेवा हमला कर दिया। इस घटना में शिक्षिका की जान बहुत मुश्किल से बची। लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन ने पहले तो चुप्पी साधने की कोशिश की। जबकि शिक्षिका के पक्ष में तुरंत खड़े होकर छात्रों को विश्वविद्यालय से नाम काटकर बहिष्कृत करना चाहिए था। अब देर से ही सही विश्वविद्यालय कार्रवाई करे, यह हमारी अपेक्षा है”।

विश्वविद्यालय प्रशासन पर निशाना साधते हुए नवल किशोर यादव ने आगे कहा कि “पटना विश्वविद्यालय प्रशासन अगर अपने कैम्पस के भीतर शिक्षिकाओं- छात्राओं का सम्मान नहीं बचा सकता, आरोपी छात्रों पर सख्त कार्रवाई नहीं कर सकता है तो वीसी- रजिस्ट्रार- प्रोक्टर के पद पर किसी को भी बने रहने का अधिकार नहीं है। ये सिर्फ चेतावनी नहीं है बल्कि अगर ये लोग कार्रवाई नहीं करते है तो इस मामले को सदन के पटल पर भी उठाऊँगा और महामहिम कुलाधिपति के समक्ष ले जाऊंगा।”

घायल शिक्षिका से मिलने पारस अस्पताल पहुंचे प्रो नवल किशोर यादव के साथ बिहार भाजपा के प्रवक्ता डॉo निखिल आनंद भी मौजूद थे। नवल किशोर यादव ने घायल शिक्षिका से मुलाकात करने के बाद फोन पर पटना विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोo आरoबीoसिंह से बात कर इस संबंध में आरोपी छात्रों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने को कहा। नवल किशोर ने शिक्षक संघ अध्यक्ष प्रोo रणधीर कुमार सिंह से भी इस घटना के बारे में चर्चा की और शिक्षकों के सम्मान में चुप नहीं बैठने और आगे आकर शिक्षिका के न्याय के पक्ष में खड़े होने को कहा। प्रो नवल किशोर यादव ने इस घटना में छात्राओं के साथ अश्लील हरकतें और शिक्षिका की पिटाई दोनों मामलों में छात्रों के खिलाफ कठोर कार्यवाही करने का बीड़ा उठाया है.