प्रॉपर्टी डीलर की घर में घुसकर ह’त्या 

लखीसराय- बिहार में बढ़ते अ’पराध से बिगड़ते हालात के सबूत अब खुलकर सामने आगे लगे हैं.  ताज़ा घ’टना लखीसराय के टाउन थाना क्षेत्र के विद्यापीठ चौक पर घटित हुयी है जिसमे अप’राधियों ने दिन’दहाड़े प्रोपर्टी डीलर अरुण सिंह की गो’ली मा’रकर ह’त्या कर दी. ह’त्यारों ने प्रॉपर्टी डीलर अरुण सिंह को एक दर्जन भी अधिक गो’लियां मारी. जिससे अरुण सिंह की मौके पर ही मौ’त हो गई. मृ’तक के परिजनों में पु’लिस की कार्यप्रणाली के प्रति ग’हरा आ’क्रोश है. फिलहाल पु’लिस ह’त्या का के’स दर्ज कर मा’मले की जां’च में जुट गयी है.

पु’लिस के द्वारा की गयी पूछताछ में मृ’तक के परिजनों ने बताया कि अरुण सिंह खाना खाकर घर में आराम कर रहे थे तभी पहले से रेकी कर रहे, घा’त लगाए ब’दमाशों ने अरुण सिंह के घर में घुस कर अं’धाधुंध फा’यरिंग कर दी जिसमे अरुण सिंह के गर्दन से नीचे और पेट के ऊपरी हिस्से में कई गो’लियां लग गयी. गो’ली की आवाज़ सुनकर परिजन मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक तीनों अ’पराधी वहां से से भा’गने में कामयाब हो गए.

अरुण सिंह के परिवार वालों ने बताया कि अप’राधियों की बाइक पर नंबर प्लेट नहीं थी और ब’दमाश बाइक को स्टार्ट करने की कोशिश कर रहे थे लेकिन जल्दबाजी में बाइक स्टार्ट नहीं होने की वजह से सभी बाइक छोड़कर वहां से पैदल ही भा’ग गए. परिजनों के अनुसार अरुण सिंह को मा’रने की कोशिश कई बार की गयी थी. गो’लीबारी की यह कोई पहली घ’टना नहीं है. पहले भी वर्ष 2003 में उन्हें 14 गो’लियां मारी गई थी. इस ह’मले के बाद वो बच गए थे. इसके बाद 2009 में भी उनपर ह’मला किया गया था जिसमे अरुण सिंह के भाई शैलेश सिंह की मौ’त हो गई थी.

प्रॉपर्टी डीलर अरुण सिंह की ह’त्या के मामले में एसडीपीओ रंजन कुमार ने बताया कि “पुरानी रं’जिश में अरुण सिंह की ह’त्या हुई है. ह’त्या को लेकर कुछ सुत्र हाथ लगे हैं. एसपी के निर्देशानुसार पु’लिस की टीम काम कर रही है. प्राथ’मिकी के अनुसार भी आगे काम किया जायेगा”.

बिहार में आप’राधिक घ’टनाओं का ग्राफ लगातार ऊपर चढ़ता जा रहा है. अप’राधियों के हौं’सले कितने बुलंद हैं इसका अंदाज़ा अरुण सिंह की दिनदहाड़े घर में घु’सकर की गयी ह’त्या से लगाया जा सकता है. बिहार सरकार को बिहार में होने वाले अ’पराध और अ’पराधियों को गम्भीरता से लेते हुए अ’पराधियों के खि’लाफ स’ख्त कदम उठाने चाहिए.