अररिया में अंग्रेज़ों के ज़माने का पूल बाढ़ में बहा

अररिया (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार के अररिया महलगांव थाना क्षेत्र के उदाहाट के निकट बकरा नदी पर स्तिथ खतरनाक घोषित पूल टूट कर गिर गया.

आपको बतादें, बकरा नदी पर स्तिथ यह पूल खतरनाक घोषित होने के बाद भी संचालित था. और इस पूल पर पैदल व साइकिल सवार होकर चले जाते थे. जब यह पूल टुटा तो पूल से कई लोग और वाहन गुजर रहे थे. जिसके वजह से कई सरे लोग, ट्रक और ऑटो बाढ़ के पानी में समा गए. हालांकि स्थानीय लोगो की मदद से छह लोगो को बचा लिया गया. इस हादसे में कई लोग लापता है जिनकी तलाश गोताखोर की टीम अभी कर रही है.

दुर्घटना के बाद आस पास के गावों के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. लोगों का कहना है कि दुर्घटना के समय पुल से ट्रैक्टर व साइकिल सवार गुजर रहे थे. घटना की सूचना मिलते ही एसडीओ शैलेंद्र चंद्र दिवाकर, एसडीपीओ पुष्कर कुमार, जोकीहाट थानाध्यक्ष विकास कुमार आजाद, महलगांव थानाध्यक्ष सदानंद साह, पुलिस जवान व एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंची.

बतादें कि बकरा नदी पर स्तिथ यह पूल खतरनाक घोषित होने के बाद इसके बगल में नया पुल बनाया जा रहा था. इस पूल से होकर वाहनों के गुजरने पर प्रतिबन्ध था. इसके लिए यहाँ पुलिस की नियुक्ति भी की गई थी. पर पर स्थानीय लोग जोकीहाट प्रखंड मुख्यालय जल्द जाने की कोशिश में अभी भी इस जर्जर पुल का प्रयोग करते थे. पैदल व साइकिल सवार इससे होकर चले जाते थे. घटना के वक्त पुलिस के नहीं होने के कारण जबरन एक ट्रैक्टर व एक आटो भी उस पर घुस गया था. इसी दौरान यह हादसा हो गया.