बिहार लॉक डाउन पर राजनीतिक दलों की प्रतिक्रिया

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :- मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए 31 मार्च तक बिहार में लॉक डाउन की घोषणा करते हुए जनता से सोशल डिस्टेडिंग को अपनाने की अपील की है. वहीँ लॉक डाउन को लेकर राजनीतिक दलों की प्रतिक्रियायें भी सामने आने लगी हैं.

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने लॉक डाउन का समर्थन करते हुए कहा कि ” हम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बिहार लॉक डाउन के फैसले का पूरा समर्थन करतें हैं. साथ ही मुख्यमंत्री से अनुरोध है कि लॉक डाउन के दौरान दिहाड़ी मज़दूरों के लिए रोटी की व्यवस्था सुनिश्चित करें और जिस तरह से मानव शृंखला,जन जीवन हरियाली का प्रचार प्रसार किया गया था. वैसे ही कोरोना की जानकारी भी दी जाए”.

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार से गरीबों की साहयता के बारे में बात करते हुए कहा कि “बिहार सरकार से निवेदन है की वृद्ध, गरीब, दैनिक मजदूरों, निम्न आय वर्ग, BPL व APL परिवारों के लिए मुफ़्त राशन और कम से कम 6 हजार रुपए प्रति माह विशेष आर्थिक सहायता का तत्काल प्रबंध करें. पेंशनधारियों को हजार रुपए अग्रिम राशि, राशन, सरकारी कर्मचारियों को आंशिक अग्रिम वेतन की अविलंब व्यवस्था करें”.