राष्ट्रीय उच्चमार्ग पर धान रोपनी

बाढ़ (अभिषेक कुमार सिन्हा) | राजद नेत्री मधु सिंह ने बख्तियारपुर और बाढ़ के बीच नेशनल हाईवे 31 के गड्ढे में तब्दील होने का अनोखे तरीके से विरोध किया. अपने महिला कार्यकर्ताओं के साथ राजद नेत्री कमरा पर स्थित एनएच31 के गड्ढों में धान रोपने पहुंची.

धान रोपने के उपरांत अपने बयान में उन्होंने कहा कि यह नेशनल हाईवे गड्ढे में है या नेशनल हाईवे में गड्ढा है कुछ पता नहीं चलता है. आए दिन ई रिक्शा, टेंपो, ऑटो, मोटरसाइकिल और विभिन्न गाड़ियों के दुर्घटना की खबर आती रहती है.

उन्होंने कहा कि हद तो यह है कि इस पर बिहार सरकार कंबल ओढ़ के सोई हुई है. बिहार सरकार को जगाने के लिए उन्होंने आज इस सड़क पर धान रोपनी किया है और सरकार को लानत भेजते हुए कहा कि अगर आपके पास रोड के मरम्मत के लिए साधन नहीं है तो इन सड़कों को किसानों के हवाले कर दें ताकि इस पर धान की फसल उगाया जा सके.

मधु सिंह ने कहा कि बिहार सरकार के मुखिया कभी इसी बाढ़ क्षेत्र से सांसद हुआ करते थे. लेकिन उन्होंने बाढ़ को उपेक्षित कर के रख छोड़ा है. जानकारी के अनुसार स्थानीय सांसद और विधायक के मुख्यमंत्री के काफी करीबी हैं, फिर भी बाढ़ की जनता बदहाली झेलने के लिए मजबूर है.

उन्होंने जनता से ही सरकार को सबक सिखाने की मांग की और आगामी विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के नेतृत्व में एक ऐसी सरकार बनाने का वादा किया जो कि इन सारी समस्याओं को हल करेगी और जनता के लिए काम करेगी. इस दौरान उनके साथ प्रेम शंकर सिंह चौहान, चीकू सिंह, विनोद यादव, अमरेश पासवान, विनोद यादव, सौरव यादव सहित दर्जनों राजद कार्यकर्ता भी मौजूद थे.

Advertisements