चीन में नोवल कोरोनावायरस का प्रकोप: चीन जाने वाले यात्रियों के लिए सलाह

दिल्ली (TBN रिपोर्टर) | चीन में एक नोवल कोरोनावायरस के संक्रमण की जानकारी मिली है. 11 जनवरी, 2020 तक अब तक 41 मामलों की पृष्टि हो चुकी है, जिनमें से एक की मौत हो गई है. थाईलैंड और जापान (एक-एक) में केवल यात्रा संबंधी मामले दर्ज किए गए हैं. इसके मुख्य लक्षण हैं कि रोगियों को बुखार आता है और कुछ को सांस लेने में कठिनाई होती है.
इसके फैलने का कारण अभी स्पष्ट नही है हांलाकि मामूली तौर पर ऐसे प्रमाण मिले है कि ये एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में फैलती है.
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार यद्यपि विश्व स्वास्थ्य संगठन के जोखिम मूल्यांकन के अनुसार इस बीमारी के वैश्विक रूप से फैलने का जोखिम कम बताया गया है, लेकिन चीन यात्रा करने वालों को निम्नलिखित सलाह दी जाती है:
चीन की यात्रा पर जाने वाले यात्री को हर समय सरल सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों का पालन इस प्रकार करना चाहिए:
१. निजी स्वच्छता का ध्यान रखें.
२. साबुन से बार-बार हाथ धोयें.
३. सांस लेते समय शिष्टाचार का पालन करें- खांसने या छींकने पर अपना मुंह ढक लें.
४. ऐसे लोगों के साथ निकट संपर्क से बचें जो अस्वस्थ हैं या जिनमें खांसी, बहती नाक आदि बीमारी के लक्षण दिखाई दे रहे हैं.
५. जीवित पशुओं और कच्चे / अधपके मीट के सेवन से बचें.
६. खेतों में, पशु बाजारों में या जहां जानवरों का वध किया जाता है, जाने से बचें.
७. अगर आपको खांसी है या नाक बह रही है तो मास्क पहनें.
८. चीन जाने वाले सभी यात्री (विशेष रूप से वुहान शहर) अपने स्वास्थ्य पर बारीकी से निगरानी रखें.

यदि आप बीमार महसूस कर रहे हैं और बुखार और खांसी है:
खांसते या छींकते समय अपना मुंह ढक कर रखें.
बीमार होने पर यात्रा की योजना न बनाएं.
तुरंत चिकित्सक की तलाश करें.

यदि आप भारत लौटते समय विमान में बीमार महसूस करते हैं:
1. एयरलाइन के चालक दल को बीमारी के बारे में सूचित करें.
2 एयरलाइंस चालक दल से मास्क मांगे.
परिवार के सदस्यों या सहयोगी यात्रियों के साथ निकट संपर्क से बचें.
3. उतरते समय एयरलाइन चालक दल के निर्देशों का पालन करें.

यदि आप विमान में अथवा उतरते समय बीमार महसूस करते हैं:
1. हवाई अड्डे के स्वास्थ्य अधिकारियों / अप्रवासन को रिपोर्ट करें.
2. हवाई अड्डे के स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देश का पालन करें.
3. यदि आप चीन से लौटने के बाद एक महीने के भीतर बीमार महसूस करते हैं:
बीमारी की निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र में जानकारी दे और अपने यात्रा इतिहास के बारे में इलाज करने वाले डॉक्टर को भी सूचित करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.