गांव में बूथ नहीं तो वोट नहीं, मतदाताओं ने खोला जिला प्रशासन के ख़िलाफ़ मोर्चा

पूर्णिया (TBN – The Bihar Now डेस्क) | चुनाव आयोग द्वारा बिहार विधानसभा चुनाव समय पर करवाने की तैयारी को देखते हुए राजनीतिक पार्टियों ने अपनी हलचलें बढ़ा दी हैं. सारी पार्टियां लोगों के बीच जा जा कर अपने विपक्षी पार्टी की गलतियां गिना रही है. सबों ने चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसी कड़ी में पूर्णिया जिले के बनमनखी विधानसभा अंतर्गत पिपरा पंचायत के बिशनपुर गांव के 700 मतदाताओं ने जिला प्रशासन के ख़िलाफ़ मोर्चा खोल रखा है.

सभी ग्रामीणों का आरोप है कि इस गांव के लिए जो मतदान केंद्र दिया गया है वो गांव से 3 किलोमीटर की दुरी पर है, जहाँ महिलाएं और बुजुर्ग नहीं पहुंच पाते हैं. इससे वे अपने मतदान के अधिकार से वंचित रह जाते है. गांव वालों की मांग है कि उनके मतदान केंद्र संख्या 34 को अगर उनके गाओं के विद्यालय में ला दिया जाए तो मतदान प्रतिशत बढ़ेगा.

बताया जा रहा है कि 2008 में ही बिशनपुर गांव में सरकारी विद्यालय बना था. गांव के इस सरकारी विद्यालय में मतदान केंद्र बनाए जाने की गांव वाले मांग कर रहे थे. इस मामले में कार्यवाई के आदेश भी दिए गए. लेकिन बाद इसे ठन्डे बस्ते में डाल दिया गया. गांव वाले साफ शब्दों में कह रहे हैं कि अगर इस चुनाव भी उनका मतदान केंद्र नहीं बदला गया तो वे मतदान का बहिष्कार करेंगे.