पवन वर्मा को जहां जाना है, चले जाए – नीतीश

पटना (TBN रिपोर्टर) | बृहस्पतिवार को राजधानी पटना में सुभाष चंद्र बोस की जयंती राष्ट्रीय समारोह के साथ मनाई गई. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना के गांधी मैदान स्थित सुभाष पार्क पहुंचे जहां उन्होंने बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. बिहार के राज्यपाल फागू चौहान सहित कई लोगों ने भी उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें याद किया.

इसी दौरान मीडिया ने उनसे पवन वर्मा द्वारा पार्टी लाइन से हटकर दिए गए बयान पर सवाल किया. नीतीश ने पवन वर्मा मामले के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि दिल्ली चुनाव में एनडीए गठबंधन को लेकर और अन्य मामलों में जिस तरह से पवन वर्मा ने पार्टी लाइन से अलग हटकर अपना बयान दिया है, वह उनकी व्यक्तिगत राय हो सकती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि वे पवन वर्मा का सम्मान करते हैं और पवन वर्मा का विरोध करना पार्टी की ओर से बिल्कुल फ्री है. इसलिए यदि वे कहीं और जाना चाहते हैं तो वे चले जा सकते हैं.

ज्ञातव्य है कि JDU के वरिष्ठ नेता पवन कुमार वर्मा ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में जनता दल (यू) और भारतीय जनता पार्टी के गठबंधन को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी तथा इस संदर्भ में पार्टी को एक चिठ्ठी लिखी थी. उन्होंने लिखा था कि देशभर में नागरिकता कानून को लेकर बीजेपी का विरोध हो रहा है. एक ओर जहां जनता दल (यू) भी CAA और NRC का विरोध कर रही है, वहीं दूसरी ओर उनकी पार्टी ने दिल्ली चुनाव में BJP के साथ गठबंधन कर लिया है. दरअसल पवन वर्मा ने पार्टी की विचारधारा के आधार पर नीतीश कुमार से सफाई भी मांगी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.