एनडीए 200 से अधिक सीटें जीतेगा – नीतीश

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट)- बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड) (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर ये दावा किया है कि इस बार के विधानसभा चुनाव 2020 में एनडीए 200 से अधिक सीटें जीतकर फिर से सरकार बनाएगी. कल शनिवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी पटना पहुंचे थे. जेपी नड्डा ने पटना में भाजपा के नए कार्यालय का उद्घाटन किया और भाजपा के कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए इस बात का ऐलान भी किया कि बिहार में इस बार भी नीतीश कुमार की अगुआई में एनडीए की सरकार बनेगी. इस दौरान कल जेपी नड्डा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उनके आवास पर मुलाकात भी की.

शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने एक अणे मार्ग स्थित आवास पर जदयू के क्षेत्रीय संगठन प्रभारियों, जिलाध्यक्षों एवं प्रखंड अध्यक्षों की बैठक का आयोजन भी किया था. आयोजित बैठक में नीतीश कुमार ने अपने दल के पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए विपक्षी दलों और अन्य राजनीतिक पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि “विपक्षी दल के पास ना कोई मुद्दा है और ना ही कोई कार्यक्रम. कुछ लोगों का काम केवल लोगों में भ्रम फैलाना होता है. वैसे लोगों पर ध्यान देने की कोई जरूरत नहीं है”. आगे उन्होंने कहा कि “वे वोट की चिन्ता नहीं करें. बिहार की जनता सही और गलत की पहचान रखती है”.

पार्टी के विचारों पर चलने के लिए जोर देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि “जिन विचारों को लेकर हमारी पार्टी आज तक चलती रही है, उन विचारों से समझौता किसी कीमत पर नहीं होगा. बिहार में धर्म, संप्रदाय, जाति या लिंग के आधार पर किसी भेदभाव का प्रश्न ही नहीं उठता है. आगे उन्होंने कहा कि “कार्यकर्ता ही जदयू की पहचान हैं. आज बिहार के सभी बूथों पर पार्टी के अध्यक्ष और सचिव हैं. यह साधारण बात नहीं है. हमें इस बात का ध्यान रखना होगा कि जदयू की जो सांगठनिक ताकत बनी है, उसका उपयोग विगत 15 वर्षों में बिहार के समग्र विकास के लिए हुए कार्यों और सामाजिक अभियानों को जन-जन तक पहुंचाने में होना चाहिए”.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने आवास पर जिला और प्रखंड अध्यक्षों के मुलाकात के दौरान उनके सुझाव और शिकायतें भी प्राप्त की और सभी पर उचित कार्यवाही करने का आश्वासन भी दिया. नीतीश कुमार ने सभी जिलाध्यक्षों एवं प्रखंड अध्यक्षों को सम्बोधित करते हुए कहा कि “वे अपने घर पर पार्टी का झंडा जरूर लगाएं. इससे न केवल कार्यकर्ताओं बल्कि आम लोगों में भी सार्थक संदेश जाएगा”.