राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया | यह दिन लड़कियों को समर्पित होता है

पटना (TBN रिपोर्टर) | गुरुवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजधानी के अधिवेशन भवन में महिला विकास निगम द्वारा एक सेमिनार का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में डिप्टी सीएम सुशील मोदी के अलावा समाज कल्याण विभाग और कल्याण विभाग के अधिकारी मौजूद थे. कार्यक्रम में बड़ी संख्या में बालिकाएं भी मौजूद थी. इस कार्यक्रम में महिलाओं और विशेषकर बालिकाओं के अधिकार और सरकार के द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं पर चर्चा हुई. इस मौके पर मौजूद डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि बिहार सरकार बालिकाओं की सुरक्षा, विकास और अधिकारों के लिए काम कर रही है. पंचायतो में महिलाओं को आरक्षण देकर उन्हें सशक्त किया गया है.
जानने योग्य है कि हर साल 24 जनवरी का दिन लड़कियों को समर्पित होता है. देशभर में इस दिन हर साल राष्ट्रीय बालिका दिवस के तौर पर मनाया जाता है. महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने 2008 में इसकी शुरुआत की थी जिसका उद्देश्य लड़कियों को समान अधिकार दिलाना है. लड़कियों को जिन असमानता का सामना करना पड़ता है, उनको दुनिया के सामने लाना और लोगों के बीच बराबरी का अहसास पैदा करना, लड़कियों के अधिकार, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण समेत कई अहम विषयों पर जागरूकता पैदा करना है. लैंगिक भेदभव की बहुत बड़ी समस्या है. लड़कियों को शिक्षा, कानूनी अधिकार और सम्मान जैसे मामले में असमानता का शिकार होना पड़ता है जिस कारण देश भर में इस मौके पर तरह-तरह के कार्यक्रमों का आयोजन होता है तथा लोगों को लड़कियों /बालिकाओं के अधिकार और सरकार के द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं के बारे में बताया जाता है.