युवक ने कहा “मैं कोरोना से पीड़ित”, अस्पताल में मचा हड़कंप 

नालंदा (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) | चीन में कोरोना वायरस ने तबाही मचा रखी है. और अब कोरोना वायरस संक्रमण का ख़तरा विश्वभर में फ़ैल चुका है. कोरोना संक्रमण के मामले अलग-अलग देशों में बढ़ते ही जा रहे हैं जो कि एक चिंता का विषय है. भारत में भी कोरोना वायरस को लेकर लोगों को सतर्कता बरतने का दिशा निर्देश जारी कर दिया है. भारत के अन्य राज्यों के साथ साथ बिहार में भी कोरोना वायरस को लेकर एडवाइजरी जारी की गयी थी और इससे बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा हैं. इसके बावजूद भी लोग अफवाहों के कारण ज्यादा खौफ में हैं. ऐसा ही एक ताज़ा मामला बिहार के नालंदा जिले के सदर अस्पताल में बुधवार को सामने आया है.

मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की दोपहर को नालंदा के सदर अस्पताल में एक 32 वर्षीय युवक डॉक्टरों के पास पहुँचता है और कहने लगता है कि उसे कोरोना हो गया है. युवक के इतना कहते ही अस्पताल प्रशासन सन्न रह जाता है. कोरोना का नाम सुनते ही अस्पताल में मौजूद डॉक्टरों,कर्मियों और अस्पताल में भर्ती मरीजों में हड़कंप मच जाता है. डॉक्टरों के अनुसार युवक ने बताया कि वह बिंद के नौरंगाबाद गाँव का रहने वाला है और फिलहाल वो हरियाणा से अपने गाँव लौटकर आया था. आगे उसने बताया कि उसे बहुत ज्यादा सर्दी, खांसी व बुखार है और सही होने का नाम नहीं ले रहा है इसलिए मुझे कोरोना हो गया है जिसकी जांच कराने के लिए मैं अस्पताल आया हूं.

डॉक्टरों ने जब युवक से कोरोना की जांच करवाने के लिए बोला तो वह अगले दिन गुरुवार को आकर जांच कराने की बात कहकर अस्पताल से फरार हो गया. सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डा. उदय कुमार ने बताया कि “युवक को रुककर जांच कराने के लिए कहा था  लेकिन वह अगले दिन आने की बात कहकर जबरन भाग गया. युवक ने बताया कि उसका नाम गौतम कुमार है और वह हरियाणा में नौकरी करता है. इन दिनों वह अपने गाँव नौरंगाबाद आया हुआ है. डॉक्टरों ने अनुमान लगाया है कि युवक को हरियाणा से लौटने के बाद सर्दी, खांसी और बुखार आया होगा और उसने समझ लिया होगा कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गया है.