मोकामा: ह’त्याकांड का सफल उद्भेदन, एक महिला समेत तीन गिरफ्तार

मोकामा (अभिषेक कुमार सिन्हा – the bihar now रिपोर्ट) | शुक्रवार को मोकामा थाना में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस किया गया जिसमें बाढ़ अनुमंडल के एएसपी अम्बरीष राहुल ने इसी साल मई महीने में हुए लव कुमार हत्याकांड के सफल उद्भेदन के बारे में बताया. याद दिला दें कि लव कुमार नामक एक युवक का अपहरण के बाद हत्या कर दी गई थी तथा उसकी लाश को जमीन में गाड़ दिया गया था.

एएसपी राहुल ने बताया कि मोकामा थाना में 20 मई 2020 को एक व्यक्ति के द्वारा अपने बेटे लव कुमार के गायब होने का आवेदन दिया गया था. पुलिस ने इस आवेदन पर अपहरण का एफआईआर दर्ज कर अज्ञात लोगों के खिलाफ अपना अनुसंधान शुरू कर दिया था.

पुलिस अनुसंधान में यह बात सामने आई कि मृतक लव कुमार के पिता अविनाश उर्फ पंकज पासवान की दो शादियाँ हुई थी. पहली पत्नी, जिसका बेटा लव था, की मृत्यु के बाद पंकज ने चमेली देवी से शादी की. लव कुमार को अपनी नई यानि सौतेली माँ चमेली देवी से नहीं बनती थी. चमेली उसको खाना नहीं देती थी जिस कारण लव अपने चाचा के घर खाना खाता था. इसी बिन्दु पर पुलिस को लव कुमार की हत्या का शक चमेली देवी पर गया.

हत्या कर जमीन में दिया था गाड़

पुलिस को अपने अनुसंधान में आगे पता चला कि लव को अपनी सौतेली माँ का संजय यादव उर्फ नेहल यादव के साथ अवैध संबंध के बारे में भी पता था जिसका वह हमेशा विरोध करता था. इस कारण लव और चमेली देवी में अक्सर झगड़ा भी हुआ करता था. फिर लव कुमार ने पुश्तैनी जमीन में अपने हिस्से की भी मांग करने लगा था जो चमेली देवी देना नहीं चाहती थी. तब चमेली ने अपने कथित प्रेमी नेहल के साथ मिलकर लव को मारने का प्लान बनाया.

हत्या का प्लान बनाने के बाद चमेली देवी 15 मई को शाम के 7:00 बजे लव कुमार को बहला-फुसलाकर वहां ले गई जहां उसका प्रेमी नेहल यादव एक अन्य व्यक्ति मोहन यादव के साथ मौजूद था. उन तीनों ने मिलकर लव कुमार की गला दबाकर हत्या कर दी तथा उसके शव को जमीन में गाड़ दिया.

जब पाँच दिनों बाद भी लव कुमार घर वापस नहीं आया तो उसके परिजन चमेली देवी से उसके बारे में पूछताछ करने लगे और दबाव बनाने लगे. इस पर चमेली देवी अपने पति पंकज पासवान के साथ मोकामा थाना जाकर 20 मई 2020 को लव के गुमशुदा होने का आवेदन दी.

पुलिस द्वारा अनुसंधान में शक हो जाने के अंदेशा से चमेली देवी लव कुमार के मर्डर में अपने साथी के साथ गिरफ़्तारी से बचने के लिए इधर उधर भागना शुरू कर दिया. लेकिन मोकामा पुलिस के प्रयास के बाद शुक्रवार को चमेली देवी, नेहल यादव उर्फ संजय यादव और मोहन यादव को गिरफ्तार कर लिया गया.

बाढ़ अनुमंडल के एएसपी अम्बरीष राहुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सभी गिरफ्तार अपराधियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है और उनकी निशानदेही पर लव कुमार के शव को बरामद करने का प्रयास पुलिस द्वारा किया जा रहा है.

Advertisements