बाढ़ में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन करवाने की कवायत

बाढ़ (अभिषेक कुमार सिन्हा – The Bihar Now) | कोरोना संक्रमण से बचने हेतु सरकार ने पूरे राज्य में आज गुरुवार 16 जुलाई से 31 जुलाई तक फिर से पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया है. इसका कारण यह है कि पिछले कई दिनों से पूरे प्रदेश में नित्य 1100 से अधिक लोग टेस्ट में कोरोना पाज़िटिव पाए जा रहे हैं जो एक चिंता का विषय है.

लॉकडाउन के नियमों का बाढ़ के लोग ठीक से पालन कर सके, इसके लिए गुरुवार को बाढ़ के एसडीएम सुमित कुमार ने सुबह से ही कमान संभाल लिया. उन्होंने पहले बाढ़ अवर निबंधन कार्यालय का निरीक्षण किया जहां सुबह से ही रजिस्ट्री करवाने वालों की भीड़ जमा होना शुरू हो जाता है.

एसडीएम सुमित कुमार ने अवर निबंधन कार्यालय में निरीक्षण के दौरान कई कर्मियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ाते हुए फटकार लगाई. साथ ही सेनेटाइजर के इस्तेमाल पर जोर दिया. बताते चलें कि बाढ़ में लगातार कोरोना पोजेटिव की संख्या बढ़ती जा रही है.

गुरुवार को बाढ़ अनुमंडल में कोरोना ने रफ्तार पकड़ लिया. बाढ़ के प्रखंड विकास पदाधिकारी अमरेंद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि 86 लोगों के फिर रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इस प्रकार कुल संख्या लगभग डेढ़ सौ से ऊपर हो गई है. सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि बाढ़ अनुमंडल प्रशासन लॉकडाउन से भी बड़े कदम उठाने की सोच रही है.

इधर बाढ़ अनुमंडल में लगातार कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने कड़ाई शुरू कर दिया है. बाढ़ प्रखंड विकास पदाधिकारी और थाना प्रभारी द्वारा जगह जगह बिना मास्क और खुले दुकानों पर कार्यवाही करते हुए लोगों का चालान काटा गया. साथ ही लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले दुकानों को सील भी किया गया.