लिट्रा पब्लिक स्कूल ने किया स्वर कोकिला लता मंगेशकर को याद

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर (Great Singer Lata Mangeshkar) के निधन के बाद से दुखित संगीत प्रेमियों द्वारा उन्हें श्रद्धांजलि देने का तांता लगा हुआ है. इसी कड़ी में राजधानी के पाटलीपुत्रा स्थित लिट्रा पब्लिक स्कूल (Litera Public School, Patna) में भी लता दीदी को श्रद्धांजलि दी गई.

गुरुवार को स्कूल प्रांगण में स्वर कोकिला लता मंगेशकर को श्रद्धांजलि दी गई. इस कार्यक्रम में सामाजिक संस्था “सामयिक परिवेश” (Social organization “Samayik Parivesh”) तथा सांस्कृतिक संस्था “कलांगन” (Cultural Organization “Kalangan”) ने भी भाग लिया और सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर को गीतों के माध्यम से श्रद्धांजलि अर्पित की.

लिट्रा पब्लिक स्कूल में आयोजित इस कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित करके की गई. दीप प्रज्जलन “सामयिक परिवेश” की राष्ट्रीय अध्यक्ष ममता मेहरोत्रा, सचिव विभा सिंह, लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत और संस्था के सदस्यों द्वारा किया गया.

इस अवसर पर मेलोडी क्वीन लता मंगेशकर को कालातीत (Timeless) बताते हुए संस्था की अध्यक्ष ममता मेहरोत्रा ने कहा कि लता जी अपने गीतों के जरिए हमेशा हमारे बीच उपस्थित रहेंगी.

इस कार्यक्रम में लोगों द्वारा गीत गाकर लता मंगेशकर को अपनी-अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई. जहां ममता मेहरोत्रा ने “ऐ मालिक तेरे बंदे हम….” गीत गाकर लता दीदी को श्रद्धांजलि अर्पित की, वहीं लोक गायिका नीतू कुमारी नवगीत ने “रहे ना रहे हम महका करेंगे बन के कली, बनके सबा…” गीत पेश किया.

यह भी पढ़ें| “अब हम तो सफर करते हैं”…….. लता दीदी ने दुनिया को कहा अलविदा

अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए निशा सिंह ने “जो वादा किया वो निभाना पड़ेगा”, अर्चना आर्यन ने “हे गंगा मैया तोहे पियरी चढ़ाइबो”, दिव्या यादव ने “तेरे बिना ज़िन्दगी से कोई शिकवा तो नहीं…”, पूनम भूषण ने “बहुत दूर मुझे चले जाना है”, देवयानी दुबे ने “ऐ मेरे वतन के लोगों……” , अंजली कुमारी ने “देखा एक ख्वाब….”, मीनू गुप्ता ने “ये गलियां ये चौबारा..” और विभा सिंह ने “एक प्यार का नगमा है..” गीत गाया.

बताते चलें, लता दीदी ने 92 साल की उम्र में मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में 6 फरवरी को सुबह अंतिम सांस ली थी. इसके बाद मुंबई में दादर स्थित शिवाजी पार्क मैदान में लता दीदी का राजकीय सम्मान के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सहित अति विशिष्ठ लोगों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया था.