जल्द क्लास शुरू नहीं हुआ तो जनता चलाएगी सड़क पर स्कूल : मनोज मंजिल

कोइलवर/भोजपुर (TBN – आमोद कुमार की रिपोर्ट)| अगियांव विधायक मनोज मंजिल ने कहा है कि अगर जल्द ही तारामणी भगवान साव +2 स्कूल में क्लास शुरू नहीं हुआ तो जनता सड़क पर स्कूल चलाएगी. उन्होंने यह बात वर्ग संचालन के वैकल्पिक व्यवस्था के लिए 11 सदस्यीय अध्यक्ष मंडल में छात्रों-अभिभावकों के साथ तारामणी भगवान साव +2 विद्यालय के प्रांगण में बैठक में कही.

इस बैठक की अध्यक्षता हिमांशु पाठक व संचालन कॉमरेड भोला यादव ने किया. कार्यक्रम में भाकपा-माले पोलित ब्यूरो सदस्य कॉमरेड स्वदेश भट्टाचार्य और अगिआंव विधायक मनोज मंज़िल शामिल हुए.

ज्ञात हो कि शनिवार को तारामणी भगवान साव +2 विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने जिला शिक्षा पदाधिकारी के सामने प्रदर्शन किया था और कहा था कि हम दूसरे स्कूलों में पढ़ने नहीं जाएंगे, इसी विद्यालय में तात्कालिक व्यवस्था की जाए. इसपर भोजपुर डीएम और जिला शिक्षा पदाधिकारी ने वैकल्पिक व्यवस्था कर जल्द वर्ग संचालन की बात कही थी.

मनोज मंजिल ने कहा कि पिछले 66 सालों से यह विद्यालय 12वी कक्षा तक केवल पठन-पाठन ही नहीं बल्कि ज्ञान, विज्ञान, कला, संस्कृति एवं अंतरराज्जीय खेलकूद के एक ऐतिहासिक धरोहर के रूप में स्थापित रहा है. यह विद्यालय भोजपुर के शिक्षा, ज्ञान, विज्ञान और विकास के रास्ते को प्रशस्त करने के प्रतीक के रुप में स्थापित रहा है. यहां के हजारो छात्र देश के निर्माण और कार्य मे कार्यरत हैं.

मनोज मंजिल ने कहा, विडंबना यह है कि ढाई साल पहले जनवरी 2019 में तारामणी भगवान साव +2 विद्यालय को जमींदोज कर दिया गया. यह सोन के कटाव से नहीं, किसी प्राकृतिक आपदा से नहीं बल्कि अविवेचित, विवेकहीन, अद्दयुदोसी विचारहीन सरकारी रोड निर्माण के लिए, विकास के नाम पर किया गया था.

मनोज ने आगे कहा कि हमने इसका विरोध भी किया, प्रतिवाद भी किया लेकिन किसी ने हमारी बाते नहीं सुनी. सरकार की ओर से आश्वासन दिया गया कि विद्यालय का पुनर्निर्माण जल्द कर दिया जाएगा.

विडंबना की बात या भी है कि इसी विद्यालय के टूटे हुए स्टेडियम में धूम-धाम से सड़क, पुल का उद्घाटन किया गया, जबकि विद्यालय भवन के पुनर्निर्माण की बात और 1600 विद्यार्थियों की शिक्षा और पठन-पाठन अधर में ही लटके रहे. आज ढाई साल बाद भी वही स्थिति बनी हुई है.

Also Read | उमानाथ मंदिर पहुंचे पटना डीएम, किया विकास कार्यों का निरीक्षण

मनोज मंजिल ने कहा कि यह सर्वविदित है कि शिक्षा, ज्ञान-विज्ञान और विकास की पूर्वशर्त है. इसलिए जनमानस में ये गंभीर सवाल बना हुआ है कि 66 साल से चल रहे इस विद्या मंदिर को ध्वस्त कर सड़क निर्माण कराना ये कैसा विकास है.

उन्होंने कहा कि भोजपुर के इतिहास में इस कलंकित अध्याय को हम मिटा नहीं सकते, फिर भी गलती को सुधारने का कुछ प्रयास तो कर ही सकते हैं. इसलिए तात्कालिक तौर पर वैकल्पिक व्यवस्था कर उसी विद्यालय में पठन-पाठन और वर्ग संचालन शुरू किया जाना चाहिए. उन्होंने मांग की कि विद्यालय का तथावत पुनर्निर्माण का काम अविलंब शुरू हो.

इस बैठक में भाकपा माले पॉलित ब्यूरो सदस्य स्वदेश भटचार्य, इंक़लाबी नौजवान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह अगिआंव विधायक मनोज मंज़िल, आइसा के राज्य सचिव सबीर कुमार, कोइलवर प्रखण्ड प्रभारी नंद जी, कोइलवर प्रखण्ड सचिव विष्णु ठाकुर, कोईलवर के वार्ड पार्षद बबलू सिंह, प्रेम कुमार, आदित्य राज, अभिषेक कुमार, आशीष कुमार, रितेश कुमार आदि मौजूद रहे.