राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती मनायी गयी

भोजपुर / कोइलवर (आमोद कुमार – The Bihar Now रिपोर्ट) | राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 152वीं और लाल बहादुर शास्त्री की 117वीं जयंती उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय काजीचक, चंदा में मनायी गयी. इस अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए सर्वप्रथम महात्मा गांधी एवं शास्त्री जी के तैलचित्र पर माल्यार्पण कर द्वय विभूतियों को याद किया गया. बारी बारी से विद्यालय के शिक्षकों एवं छात्र-छात्राओं ने महान नेताओं को श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया.

विद्यालय के प्रधानाध्यापक डा. दया शंकर प्रसाद ने बताया कि 9 अक्टुबर 2020 तक शिक्षा विभाग के निदेशानुसार कक्षा 1 से कक्षा 12 तक के छात्र-छात्राओं द्वारा Dignity of Labour एवं “एक भारत श्रेष्ठ भारत”* के आधार पर फोटोग्राफी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाना है. इसको तीन कैटोगरी यथा: 1 से 5, 6 से 8 और 9 से 10 में रखा गया है. प्रतियोगिता के अंतिम दिन संबंधित लिंक पर लोड करना है.

माध्यमिक विद्यालय के भाषा शिक्षक मनोज कुमार उर्फ गोपाल जी ने कहा कि विद्यालय के सभी बच्चों को इसमें बढ़-चढ़कर भाग लेना है. इस अवसर पर भारतीय आजादी के संत गांधी जी एवं “जय जवान-जय किसान” के नारा देने वाले भारतरत्न और भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए विद्यालय के वरीय शिक्षक राजाराम सिंह “प्रियदर्शी” ने कहा कि एक तरफ भारत को स्वतंत्र कराने में गांधीजी ने असहयोग आंदोलन, डांडी मार्च, चम्पारण सत्याग्रह और सत्य अहिंसा के साथ अपनी महती भूमिका निभाई वहीं दूसरी तरफ शास्त्री जी ने कम उम्र में ही स्वतंत्रता संग्राम में शामिल हो गये तथा स्वतंत्रता प्राप्ति के उपरांत भारत के प्रधानमंत्री रहते हुए देशवासियों के लिए अपने जीवन के एक-एक पल को समर्पित कर दिया. आगे उन्होंने कहा कि भारत के इतिहास में दो अक्टूबर का दिवस इसलिये और महत्वपूर्ण हो जाता है कि इस दिन को भारत के दो-दो महापुरुषों का जन्मदिन है.

इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षक लालदेव वर्मा, मोतीलाल प्रसाद, प्रदीप कुमार, संजय कुमार राम, कमाल अशरफ रिजवी, ऊषा कुमारी, छात्र-छात्राओं में अमृता, ज्योति, पुष्पा, मिता, जय शंकर, विजेता, कुणाल, रवि, चंदन सहित कई छात्र- छात्रा उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.