जानवर बचा रहे अपनी जान, विटीआर में घुसा बाढ़ का पानी

बगहा (इमरान अजीज – The Bihar Now रिपोर्ट) | जिले में नदियाँ अपने उफान पर हैं. इस कारण कई इलाके जलमग्न हो गए हैं. यहां तक कि सूबे का एकमात्र वाल्मीकि टाइगर रिज़र्व (VTR) में भी बाढ़ का पानी घुस गया है. हालात ऐसे हो गए हैं कि आम जनजीवन तो अस्त-व्यस्त हैं ही, जंगली जीवों के जीवन पर भी संकट मंडराने लगा है.

वाल्मीकि टाइगर रिज़र्व (Valmiki Tiger Reserve) के जानवर बाढ़ में अपनी जान बचाने के लिए ऊंचे स्थलों की तलाश में रिहायशी इलाकों में भी घुस रहे हैं. ऐसे में बाढ़ और बरसात के पानी से बचने के क्रम में हिरण, नीलगाय सहित कई अन्य जानवर भी नदी की धारा में बहकर आ रहे हैं जिनका रेस्क्यू ग्रामीणों द्वारा करते देखा जा रहा है.

इसी को लेकर वाल्मीकि टाईगर रिजर्व के मदनपुर में वनकर्मियों की टीम भी वाल्मीकि टाइगर रिज़र्व के जलमग्न इलाकों में पेट्रोलिंग कर रही है और वन्य जीवों का रेस्क्यु कर रही है. साथ ही वन विभाग में बढ़ते शिकार और तस्करी पर रोकथाम को लेकर वन तस्करों के विरूद्ध कार्रवाई में जुटी है.

सूबे के इकलौते टाईगर रिजर्व में मानसून गस्ती से वन जीवजंतु और जंगल की सुरक्षा के साथ तस्करों और शिकारियों पर शिकंजा कसने की तैयारी में कर्मी और जवान जुटे हुए हैं.