मुंगेर: ‘एसएचओ ऑफ द मंथ’ की शुरुआत, धरहरा थानाध्यक्ष हुए अगस्त के विजेता

मुंगेर (अभिषेक कुमार सिन्हा – The Bihar Now रिपोर्ट) | मुंगेर में एसपी लिपि सिंह द्वारा ‘एसएचओ ऑफ द मंथ’ जैसे नए अभियान की शुरुआत की गई. यह अभियान पुलिस ऑफिसर, विशेष रूप से थानाध्यक्षों का मनोबल बढ़ाने, उत्साहवर्धन एवं प्रोत्साहन के उद्देश्य से शुरू की गई है.

इसी कड़ी में एसपी लिपि सिंह ने अगस्त महीने के लिए देशी शराब, विदेशी शराब, हथियारों की बरामदगी तथा फरारियों की गिरफ्तारी के कुछ मानक तय किए थे. इन मानकों की समीक्षा में धरहरा के थानाध्यक्ष रोहित कुमार सिंह को सर्वश्रेष्ठ पाया गया. इसके बाद अगस्त महीने के लिए ‘एसएचओ ऑफ द मंथ’ का पुरस्कार धरहरा के थानाध्यक्ष रोहित कुमार सिंह को दिया गया.

खबरों के मुताबिक, गिरफ्तारी और बरामदगी के मामलों में धरहरा थाना द्वारा सबसे बेहतर प्रदर्शन किया गया था. इस कारण धरहरा थानाध्यक्ष को अगस्त महीने के लिए ‘एसएचओ ऑफ द मंथ’ पुरस्कार से नवाजा गया. मासिक अपराध समीक्षा गोष्ठी के बाद धरहरा थानाध्यक्ष को यह पुरस्कार दिया गया.

मुंगेर एसपी ने बताया कि थानाध्यक्ष लेवल के ऑफिसरों के मनोबल को बढ़ाने तथा उन्हें प्रोत्साहित कर एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना विकसित करने के लिए इस अभियान की शुरुआत की गई है. उन्होंने बताया कि अब हर महीने उस थानाध्यक्ष को पुरस्कृत किया जाएगा जिनका परफॉरमेंस सबसे बेहतर होगा.

वहीं दूसरी तरफ धरहरा के थानाध्यक्ष रोहित सिंह पुरस्कार पाकर काफी खुश हैं. उन्होंने कहा कि पहली बार इस तरह का पुरस्कार उन्हें दिया गया है जिससे उन्हें काफी प्रसन्नता महसूस हो रही है. उन्होंने कहा कि आगे भी वे मुंगेर एसपी की उम्मीदों पर खरा उतरने की भी पूरी कोशिश करेंगे तथा और भी बेहतर प्रदर्शन करेंगे.