मुख्य सड़क पर धान रोपनी कर जताया विरोध, बाढ़ग्रस्त घोषित करने की मांग

दरभंगा (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार के दरभंगा ज़िले के वार्ड 17 गांधीनगर कटरहिया मोहल्ला के लोगों ने जलजमाव की समस्या का विरोध करते हुए मुख्य सड़क पर धन रोपनी कर अपना गुस्सा जाहिर किया. लोगों का आरोप है कि जल निकासी के नाम पर नगर निगम के द्वारा नाला बनाकर 28 लाख रुपए का घोटाला किया गया है.

नाला बनाने के नाम पर आखिर 28 लाख का नाला निर्माण किया ही क्यों गया जब पिछले 4 महीनों से जलजमाव हो रहा है समस्या कम नहीं हुई है. उल्टा एक तरफ का पानी ले जाकर दूसरे जगह छोड़ दिया गया नतीजा ये हैं की गांधीनगर मोहल्ला के साथ-साथ पूरा कटरहिया मोहल्ला भी डूब गया है.

पिछले अप्रैल के महीना से पुरे इलाका के मुख्य सड़को और गलियों में पानी भरा हुआ है. लोगों का कहना हैं- चार महीनो से रोजी-रोटी पर असर पड़ा. बाकि के सभी लोगों को बहुत ज्यादा मुश्किलों पड़ रहा है. उनकी मांग है की गांव के लोगों को फिलहाल समस्या को देखते हुए पूरे गांधीनगर कटरहिया मोहल्ला इलाका को बाढ़ ग्रसित क्षेत्र घोषित करते हुए प्रत्येक परिवार को 6-6 हजार रुपया का मुआवजा के तौर पर जिया जाए.

स्थानीय युवक और मिथिला स्टूडेंट यूनियन के विश्वविद्यालय प्रभारी अमन सक्सेना ने कहा इस इलाका को बाढ़ ग्रसित क्षेत्र घोषित करने के संबंध में कल ही नगर आयुक्त को ज्ञापन सौंपा जा चुका है. स्थानीय पार्षद मोहल्ला विरोधी है जिस कारण अभी तक इसका निवारण नहीं हुआ है.

सड़क पर धान रोपनी कर किया विरोध

जिसके विरोध में आज स्थानीय निवासियों ने इसका विरोध करते हुए सड़क पर धन रोपनी की जिसमे दर्जनों महिला ने सहभागिता निभाते हुए एक स्वर में कहा यह इलाका अब किसी काम का नहीं रहा अब यहां धान ही रोपा जा सकता है या फिर मछली पालन ही किया जा सकता है. इस धान रोपनी से जो भी अनाज पैदावार होगा. उसका आधा हिस्सा वार्ड पार्षद नगर निगम और नगर विधायक को भेजा जाएगा.