यहां बीएलओ ने उपलब्ध नहीं कराई है वोटरों को मतदाता पर्ची

कोईलवर/भोजपुर (आमोद कुमार – The Bihar Now रिपोर्ट) | बिहार विस चुनाव के लिए कल 28 अक्टूबर से होने वाले मतदान से पहले मतदाताओं को मतदाता सूची में अपना नाम खोजने में माथापच्ची नहीं करनी होगी. चुनाव आयोग ने मतदाताओं की इस परेशानी को समझते हुए उनके घर पर ही मतदाता पर्ची उपलब्ध कराने की व्यवस्था की है.

निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाताओं को वोटर पर्ची उपलब्ध कराने की जवाबदेही संबंधित मतदान केंद्र के बीएलओ को दी गई है. बीएलओ अपने क्षेत्र के हर घर पर जाकर प्रत्येक मतदाता को वोटर पर्ची उपलब्ध कराएंगे. वोटर पर्ची में मतदाता का नाम, बूथ नंबर, पता के साथ उनका फोटो भी अंकित होता है. निर्वाचन शाखा सभी बीएलओ को मतदाता पर्ची उपलब्ध करा दिया है.

भोजपुर जिले में 28 अक्टूबर को मतदान होना है. लेकिन कोईलवर नगर पंचायत के संदेश विधानसभा के वार्ड-4, वार्ड-6, समेत कई वार्डो में बीएलओ द्वारा मतदाता पर्ची मतदाताओं को नहीं उपलब्ध कराई गई है. और उस पर्ची को बीडीओ के पास यह कह जमा करा दिया गया कि सम्बन्धित नाम के मतदाता यहां है ही नहीं जबकि कई मतदाताओं ने बताया कि उन्हें बीएलओ द्वारा पर्ची नहीं दी गयी है.

पहले मतदान केंद्र के बाहर लोगों को अपना नाम खोजने में खुद माथापच्ची करनी पड़ती थी या फिर दूसरों की मदद लेनी पड़ती थी. उसी पर्ची पर जाकर लोग अपना मतदान करते थे. बाद में राजनीतिक दलों ने यह जिम्मेवारी संभाली. इसके पीछे मतदाता को सुविधा देने की बजाय उनकी सहानुभूति से उनका वोट हासिल करना मूल उद्देश्य था. इसमें वैचारिक मतभेद वाले मतदाता को पर्ची ही नहीं दी जाती थी.

इस सम्बंध में निर्वाचन विभाग ने 23 अक्टूबर तक मतदाताओं को वोटर पर्ची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया था. वोटर पर्ची देने के साथ पंजी पर मतदाता का हस्ताक्षर भी कराना है. ऐसा नहीं करने व समय पर वोटर पर्ची का वितरण नहीं करने वाले बीएलओ के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात भी जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा कही गयी थी.