भटके तेंदुआ ने ग्रामीणों पर बोला हमला, कई हुए जख्मी

भटके तेंदुआ ने ग्रामीणों पर बोला हमला, कई हुए जख्मी

रामनगर (TBN डेस्क) | पश्चिम चंपारण जिला स्थित रामनगर के इमरती कटहरवा गांव में जंगल से भटके तेंदुआ ने ग्रामीणों पर हमला बोल दिया, जिसमें कई लोग जख्मी हो गए.

बताया जाता है कि ग्रामीण अपने अपने घरों के बाहर बैठे थे तभी घात लगाए तेंदुआ ने उनपर हमला बोल दिया. घायल लोगों को पीएचसी रामनगर में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज किया जा रहा है.

ग्रामीणों के मुताबिक जंगल से भटके बाघ ने उनपर हमला कर बुरी तरह ज़ख्मी कर दिया. इनमें राजेन्द्र मुशहर को गंभीर हालत में बेहतर इलाज के लिए बेतिया रेफर किया गया है.

इस घटना की पुष्टि करते हुए वाल्मीकि टाईगर रिजर्व (Balmiki Tiger Reserve) के डीएफओ अम्बरीष मल्ल ने बताया कि जानवर के हमले में चार लोग चपेट में आए हैं, जिसमें एक गंभीर रूप से जख्मी है और उसे बेहतर इलाज के लिए दूसरे जगह रेफर किया गया है.

बाघ के भय से डूबकर मौत

इस घटना के बाद बाघ की चहलकदमी के भय से (panic death) काला कुम्हिया खटौरी निवासी मेरो लाल साह की भगदड़ के चलते मसान नदी डोभ में गिरकर डूबने से मौत हो गई. रामनगर एसडीपीओ अर्जुन लाल ने इसकी पुष्टि करते हुए रामनगर थाना पुलिस को घटना की जांच और कार्रवाई का निर्देश दिया है.

समाचार के मुताबिक वाल्मीकि टाईगर रिजर्व के डीएफओ अम्बरीष मल्ल ख़ुद घटना स्थल पर पहुंच गए. पगमार्क (Footmark) के आधार पर स्पष्ट होगा कि हमलावर बाघ है या तेंदुआ.

पीड़ित ग्रामीणों को वन विभाग की ओर से राहत मुआवजा देने की घोषणा की गई है. घटना के बाद ग्रामीणों में दहशत का माहौल है. लॉकडाउन में लोगों की आवाजाही बंद होने से जंगली जानवरों का आतंक बदस्तूर जारी है.