सभी वाहनों पर लगी रोक, सारी सीमाएं सील

पटना (TBN रिपोर्ट) | राज्य में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के राज्य की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है. यह कदम राज्य में लॉकडाउन को पूरी तरह से प्रभावी बनाने के लिए उठाया गया है. यहाँ तक कि एक जिले से दूसरे जिले में जाने पर भी रोक लगा दी गई है. लेकिन यह रोक आपातकालीन स्थिति को छोडकर है.
गुप्तेश्वर पांडेय, पुलिस महानिदेशक के अनुसार राज्य की सीमा पर काफी संख्या में लोग आ गये थे तथा वहां पर उन्हें रखने में काफी असुविधा हो रही थी. इस कारण सरकार के आदेश पर उनको उनके जिलों में पहुंचा दिया गया है. अपने गांव पहुँच कर बाहर से आए लोगों को गाँव के स्कूल या अन्य जगह पर बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में 14 दिनों तक रहना होगा. पुलिस महानिदेशक ने कहा कि हम सभी लोग जनता को यह समझाएं कि हमें कहीं नहीं निकलना है. उनके अनुसार अब बाहर से कोई भी बिहार नहीं आ पाएगा.
एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि राज्य में प्रवेश करने वाली सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है. साथ ही यूपी, पश्चिम बंगाल और झारखंड को जोड़ने वाले संपर्क मार्गों पर भी चौकसी रखने के निर्देश दिए गए हैं. बिहार की नेपाल से जुड़ी सीमाओं को भी बंद किया गया है. लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों से आए 13 हजार से ज्यादा लोगों को उनके गांव तक पहुंचाया गया है तथा गांव में ही उनके क्वारंटाइन सेंटर में रहने की व्यवस्था की गई है.
वहीं, आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार सीमावर्ती जिलों में चलाए जा रहे राहत केंद्रों में रविवार से सोमवार तक आए 13 हजार लोगों को मेडिकल स्क्रीनिंग कर उनके गांवों तक पहुंचाया गया है. विभाग के अनुसार बाहर से राज्य में आने वाले सभी लोगों डाटा तैयार किए गए हैं.

Advertisements