बाढ़ से पहले गंडक बराज, नहरों के जलस्तर और डिस्चार्ज का निरीक्षण

पश्चिम चंपारण (TBN रिपोर्ट) | जिला के बगहा में इंडो नेपाल सीमा पर स्थित वाल्मीकिनगर गंडक बराज और नहरों का जल संसाधन विभाग के अधिकारियों ने दौरा कर निरीक्षण किया. मुख्य अभियंता (नहर) जे कुमार ने जलसंसाधन विभाग के आलाधिकारियों के साथ गंडक विभाग के गेस्ट हाउस के सभागार में बैठकर कई बिंदुओं पर चर्चा की.

मुख्य अभियंता (नहर) ने बैठक में तिरहुत नहर,त्रिवेणी नहर,व दोन नहर के बांध सहित नहर में पानी के डिस्चार्ज पर जानकारियां लीं. वहीं कार्यपालक अभियंता जमील अहमद ने बातचीत के दौरान बताया कि त्रिवेणी कैनाल में एक हज़ार क्यूसेक, तिरहुत मुख्य कैनाल में 800 क्यूसेक पानी डिस्चार्ज किया जा रहा है.

उन्होंने आगे बताया कि किसानों को पटवन के लिए पानी मिल सके, इसके लिए गंडक बराज में पाउंडिंग कर पानी के लेवल को बढ़ाया जा रहा है. जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि अगले एक सप्ताह के अंदर दोन नहर में भी पानी छोड़ा जाएगा.

मुख्य नहर में 25 जून से 10 हज़ार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा मुजफ्फरपुर परिक्षेत्र में 2 हज़ार पानी के डिमांड के अनुसार सप्लाई किया जाएगा. इससे खरीफ की फसल और खेती प्रभावित नहीं हो सकेगी.

फ़िलहाल धान के बिचडे तैयार करने और गन्ना के फसलों को पटवन हेतु नहरों में पानी छोड़े जा रहे हैं. इधर बाढ़ पूर्व तैयारी हेतु SDM विशाल राज़ द्वारा जल निस्सरण प्रमंडल के अभियंताओं के साथ प्रखंड बगहा 2 के ढोलबजवा लक्ष्मीपुर स्थित हथियनवा बांध का निरीक्षण किया गया और ज़रूरी निर्देश दिए गए.

बता दें की 80,106 व 211 आरडी के बीच बांध पर मरम्मती और डिसिल्टिंग का कार्य चल रहा है जो एक सप्ताह में कार्यों को पूरा कर लिया जाएगा. इस मौके पर तिरहुत प्रमंडल, बेतिया-एक के अधीक्षण अभियंता हरिकेश्वर राम, कार्यपाल अभियंता चन्द्रशेखर प्रसाद और सहायक अभियंता संजय कुमार सुमन सहित अन्य अभियंता मौजूद थे.