अर्णब गोस्वामी मामला: बिहार में उद्धव ठाकरे और 50 अन्य पर दर्ज हुआ मुकदमा

मुजफ्फरपुर (TBN – The Bihar Now डेस्क)| रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी को लेकर मुजफ्फरपुर न्यायालय में उद्धव ठाकरे सहित 50 पुलिसकर्मियों पर मुकदमा दर्ज हुआ है. मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मुकेश कुमार की कोर्ट में परिवाद दाखिल हुआ है. ये सभी परिवाद-पत्र मुजफ्फरपुर जिले के पताही गांव के कुंदन कुमार द्वारा दायर किया गया है.

इस परिवाद-पत्र में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल वसंत राव देशमुख, महाराष्ट्र के रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक, अलीबाग थाना के थानाध्यक्ष व अज्ञात 50 पुलिस कर्मियों को आरोपी बनाया गया है. कुंदन कुमार के अधिवक्ता कमलेश कुमार ने बताया कि कोर्ट ने परिवाद को सुनवाई पर रखा है. इसके लिए 12 नवंबर को सुनवाई की तारीख मुकर्रर की है.

परिवाद में कुंदन कुमार ने कहा है कि मैं चार नवंबर को टीवी चैनल का प्रसारण देख रहा था. आरोपितगण अपने पद व पावर का दुरुपयोग करते हुए अपनी दुश्मनी साधने के लिए वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार कर लिया. उन पर इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाईक और उसकी मां को खुदकशी करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया गया. जबकि यह मामला पहले ही समाप्त हो चुका था. गिरफ्तारी के दौरान आरोपितों ने अर्नब के साथ अभद्र व्यवहार किया. उनकी हत्या की भी कोशिश की गई. अर्नब गोस्वामी के समाचार चैनल ने सुशांत सिंह राजपूत व कंगना रनौत के मामले को प्राथमिकता के तौर पर उठाया था. इससे आरोपितों व महाराष्ट्र सरकार की किरकिरी हुई थी. इसी की दुश्मनी में अर्नब गोस्वामाी के साथ अभद्र व्यवहार किया गया और झूठे मुकदमें में फंसा कर जेल भेजवा दिया.