आरजेडी ने अल्पसंख्यकों की नहीं की कोई भलाई

बगहा (इमरान अजीज – The Bihar Now) | मिशन 2020 की तैयारी में अल्पसंख्यक वोटरों को गोलबंद करने की कवायद में जुटी जेडीयू का अब नगर व प्रखंड और पंचायत स्तर पर तैयारियां जोरों पर है.

इसी कड़ी में विधान पार्षद और जेडीयू अल्पसंख्यक प्रदेश अध्यक्ष व नगर विकास समिति के अध्यक्ष तनवीर अख़्तर आज बेतिया होते बगहा पहुंचे जहां अल्पसंख्यक समुदाय की ओर से उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया.

बताया जा रहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर नीतीश सरकार कोई भी कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है. यही वजह है कि सूबे में चुनावी शंखनाद होते ही सभी पार्टियां अपने-अपने तरीके से वोटरों को अपने पाले में लेने की जुगत में लगी हैं.

इसी लिहाज़ से जेडीयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष तनवीर अख्तर बगहा में अल्पसंख्यक वोटरों को सीएम नीतीश कुमार के पक्ष में गोलबंद होने की गुज़ारिश की.

उन्होंने आरजेडी सरकार के ‘पति, पत्नी और वो’ दो पर चुटकी लेते हुए कहा कि उस सरकार ने मुस्लिम भाइयों का सदैव सिर्फ़ और सिर्फ उपयोग किया है. आरजेडी शासनकाल में अल्पसंख्यक समुदाय की कोई भलाई नहीं की गई है.

इधर सम्मेलन का संचालन करते हुए जेडीयू प्रदेश सचिव अब्दुल गफ्फार ने विधानसभा चुनाव 2020 में मुस्लिम उम्मीदवारों को आरजेडी के मुक़ाबले सीटें देने की मांग रखीं.

आपको बताएं कि बगहा नगर के रत्नमाला पुस्तकालय में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में शामिल होते हुए नीतीश सरकार की उपलब्धियों को जन जन तक पहुंचाने को लेकर आयोजित जेडीयू सम्मेलन में आए लोगों में जोश भरा गया.

आगामी विधानसभा चुनाव में ‘फ़िर से नीतीश’ स्लोगन के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं को बिहार विधानसभा चुनाव में दो सौ सीटें जीतने का लक्ष्य रखा गया है. मौक़े पर पूर्व जेडीयू सांसद और जेडीयू जिलाध्यक्ष कैलाश बैठा समेत अब्दुल गफ्फार, मुश्ताक अहमद, निजामुद्दीन अंसारी के साथ हैदर अली मंसूरी और शम्स जुनैद और इजहार सिद्दीकी के अलावा दर्जनों नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे.

Advertisements