कोरोना के साथ आसमानी आफत का कहर, 9 मरे

छपरा (TBN रिपोर्ट) | एक तरफ कोरोना वायरस (कोविड-19) ने पूरे विश्व में कहर बरपाया हुआ है और पूरे देश के साथ बिहार में भी लॉकडाउन जारी है तो दूसरी तरफ आसमानी आफत ने रविवार को सारण जिले में रविवार कहर बरपाया. आज बिहार के समाचार में, सारण जिला के सदर प्रखंड के खलपुरा दियारा इलाके में आसमानी बिजली की चपेट में आने से 9 ग्रामीणों की मौत हो गई.

यह दर्दनाक घटना तब घटी जब ये सभी बदकिस्मत परवल की खेती की नपाई के लिए इकठ्ठा हुए थे. ये सभी आस पास के दियारा क्षेत्र के थे. इस हादसे में शेरपुर नई बस्ती के 4, खलपुरा के तीन, लवकुशपुर के 1 और विशुनपुरा नई बस्ती के एक व्यक्ति की मौत हुई है.

बताया जा रहा है कि दियारा में करीब 18 किसान और ग्रामीण गए हुए थे. तभी अचानक से बादल गरजने लगे और मूसलाधार बारिश शुरू हो गई. बारिश से बचने के लिए सभी लोग एक झोपड़ीनुमा मचान के नीचे इकठ्ठा होकर बारिश के थमने का इंतज़ार करने लगे. फिर एकाएक उस मचान पर भयंकर गर्जन के साथ आकाशीय बिजली गिरी और मचान के नीचे खड़े सभी लोग चपेट में आ गए.

इस हादसे में 9 लोगो की मौत मौके पर ही हो गई जबकि 7 लोग घायल हो गए. सभी घायलों का इलाज स्थानीय सदर अस्पताल में हो रहा है. मृतकों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल लाया गया है.

लोगों को जैसे ही इस हादसे की जानकारी हुई, मौके पर भीड़ जुट गई. दूसरी तरफ पीड़ितों के घरों में चीख पुकार मच गई. घटना की सूचना मिलने के बाद गड़खा के विधायक और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री मुनेश्वर चौधरी घटनास्थल पर पहुंच गए. उन्होंने पीड़ितों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की.

सारण डीएम मृतक के परिजन को चेक सौंपते हुए

घटना के बाद सदर अस्पताल में जिला के डीएम, एसपी, एसडीएम सदर, एसडीपीओ सदर, सीओ सदर सहित नगर, भगवान बाजार और मुफस्सिल थाना का पुलिस बल कैम्प किये हुए है. डीएम सारण सुब्रत कुमार सेन ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिवार को 4 – 4 लाख रुपया मुआवजा देने की घोषणा की.