3 वर्षीय बच्चे के मौ’त की त्रा’सदी

जहानाबाद (TBN रिपोर्ट) | कोविड-19 (Corona) वायरस की भयानक त्रासदी के वक्त में एक मां को अपने गोद में 3 साल के बच्चे की लाश लेकर सड़क पर बदहवास दौड़ते दिखना भी किसी त्रासदी से कम नहीं है. ये एक ऐसी त्रासदी है, जिसने हर इंसान को अंदर से झकझोर डाला है.

3-year-old dies after hospital allegedly denies ambulance in Bihar’s Jehanabad

यह त्रासदी है जहानाबाद की जहां अस्पताल के अधिकारियों द्वारा कथित तौर पर बच्चे के पिता को एम्बुलेंस सेवा (Ambulance Service) से वंचित करने के बाद 10 अप्रैल को एक तीन वर्षीय बच्चे की मृत्यु हो गई. मृत बच्चे के पिता ने आरोप लगाया कि शहर के सरकारी अस्पताल (government hospital) ने बीमार बच्चे के लिए एक एम्बुलेंस सेवा से इनकार कर दिया था.

नवीन कुमार, जहानाबाद डीएम

खबर सच होने जाने पर कार्रवाई की जाएगी – डीएम

वही इस घटना पर बोलते हुए, जहानाबाद (Jehanabad) के जिला मजिस्ट्रेट (District Magistrate) नवीन कुमार ने कहा कि उन्हें इस घटना की जानकारी नहीं है. फिर भी अगर यह सच पाया जाता है तो कार्रवाई की जाएगी. कुमार ने कहा, “मुझे इस घटना की जानकारी नहीं है, लेकिन अगर इस तरह की घटना हुई है तो कार्रवाई की जाएगी”.

Advertisements